भारत आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1, वनडे में नंबर 2

Last Updated: शुक्रवार, 3 मई 2019 (00:50 IST)
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की ताजा जारी रैंकिंग में टेस्ट प्रारूप में अपने नंबर 1 तथा वन-डे में अपने नंबर 2 पायदान पर बरकरार है। के अलावा इंग्लैंड ने वन-डे में अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा है। आईसीसी विश्वकप की मेजबान इंग्लिश टीम 30 मई से शुरू होने वाले टूर्नामेंट में खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही है।
आईसीसी ने गुरुवार को टीम रैंकिंग जारी की जिसमें 2015-16 के सीरीज परिणामों को गणना से हटा दिया गया है जबकि 2016-17 और 2017-18 के परिणामों को 50 प्रतिशत ही आंका गया है लेकिन उसके बाद की सीरीज को 100 फीसदी आंका गया है।

भारत अक्टूबर 2016 से टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पर बना हुआ है। हालांकि मौजूदा टेस्ट टीम रैंकिंग में भारत की पर बढ़त 8 से कम होकर 2 अंक रह गई है। भारत के तीन रेटिंग अंक कम हुए हैं लेकिन वह 113 अंकों के साथ शीर्ष पर है।
भारत की दक्षिण अफ्रीका पर 3-0 तथा श्रीलंका पर 2-1 की सीरीज जीत 2015-16 सत्रों में शामिल थी इसलिए उसे मौजूदा गणना में शामिल नहीं किया गया जिससे उसे तीन अंकों का नुकसान हो गया।


न्यूजीलैंड की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो बार 0-2 की शिकस्त को मौजूदा रैंकिंग अवधि से बाहर रखा गया, जिससे उसे तीन अंकों का फायदा हो गया और वह 111 अंकों के साथ दूसरे पायदान पर है।
रैंकिंग में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया से एक स्थान की अदला-बदली करते हुए 105 अंकों के साथ चौथा स्थान हासिल कर लिया है जबकि ऑस्ट्रेलिया छ: अंकों के नुकसान के साथ 98 अंकों के साथ पांचवें नंबर पर आ गया है। ऑस्ट्रेलिया के लिए यह निराशाजनक रहा कि 2015-16 में उसने 5 में से 4 सीरीज जीतने के बावजूद यह नुकसान उठाया है।

इसके अलावा सातवें नंबर की पाकिस्तान और आठवें नंबर की वेस्टइंडीज के बीच अब 11 अंकों का फासला कम होकर केवल 2 रह गया है। बांग्लादेश 9वें और जिम्बाब्वे 10वें नंबर पर हैं।



वनडे रैंकिंग में इंग्लैंड ने अपनी शीर्ष रैंकिंग बरकरार रखी है लेकिन 30 मई से होने वाले विश्वकप में नंबर वन टीम के तौर पर बने रहने के लिए उसे एकमात्र वन-डे में आयरलैंड को और पाकिस्तान से घरेलू सीरीज कम से कम 3-2 से जीतनी होगी।

इंग्लैंड को हालांकि एक अंक का नुकसान हुआ है और उसके 123 अंक है जबकि भारत को एक अंक का फायदा हुआ है और वह 121 अंक लेकर दूसरे पायदान पर बरकरार है तथा इंग्लैंड से उसका फासला अब केवल 2 अंक का रह गया है।
दक्षिण अफ्रीका ने न्यूजीलैंड को पीछे छोड़ते हुए तीसरी रैंकिंग हासिल कर ली है जबकि एक अन्य बदलाव में वेस्टइंडीज की टीम श्रीलंका से एक स्थान आगे निकल गई है। विंडीज अब वनडे रैंकिंग में आठवें पायदान पर है जबकि श्रीलंका नौवें नंबर पर है।

वनडे में कोई भी टीम शीर्ष-10 से बाहर नहीं हुई है और साफ है कि इस बार विश्वकप में सभी 10 रैंकिंग की टीमें उतरेंगी। इस वर्ष चार में से तीन टीमों को वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिवीजन-2 के बाद वनडे दर्जा दिया गया है। लेकिन नामीबिया, हॉलैंड, ओमान और अमेरिका ने हालांकि अभी अधिक वनडे नहीं खेले हैं इसलिए वह रैंकिंग तालिका में अभी शामिल नहीं हो सकी हैं। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :