किस स्थिति में आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच सकता है भारत ?

Last Updated: बुधवार, 16 दिसंबर 2020 (19:49 IST)
दुबई:के फाइनल में पहुंचने के लिये टीमों के बीच मुकाबला कड़ा हो गया है और ऐसे में को अपनी दावेदारी मजबूत करने के लिये ऑस्ट्रेलिया और फिर स्वदेश में के खिलाफ श्रृंखला में अच्छा प्रदर्शन करना होगा।
भारत आईसीसी पुरुष टेस्ट टीम रैंकिंग में 114 रेटिंग अंकों के साथ तीसरे स्थान पर है जबकि ऑस्ट्रेलिया 116.46 अंक लेकर शीर्ष पर है।

के 116.37 अंक हैं और वह ऑस्ट्रेलिया के काफी करीब है। वह वेस्टइंडीज के खिलाफ दोनों टेस्ट मैचों में पारी के अंतर से जीत के बाद 2021 में होने वाले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के बेहद करीब पहुंच गया है।
न्यूजीलैंड अगर 26 दिसंबर से शुरू होने वाली दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला में पाकिस्तान को 2-0 से हरा देता है तो उसके पांच श्रृंखलाओं में 420 अंक हो जाएंगे।

इससे भारत को आठ टेस्ट मैचों में पांच जीत या चार जीत और तीन ड्रा की जरूरत पड़ेगी। भारत को ये सभी मैच मजबूत ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ खेलने हैं।हालांकि भारत को इंग्लैड के खिलाफ टेस्ट सीरीज घरेलू पिचों पर खेलनी है। लेकिन इंग्लैड वनडे के साथ टेस्ट में भी मजबूत टीम साबित हो रही है।
इसका मतलब यह भी है कि अगर भारत ऑस्ट्रेलिया से बॉडर गावस्कर सीरीज 0-4 से हार जाता है तो आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुचना नामुमकिन हो जाएगा।
भारत को चाहिए कि अगर वह सीरीज हारे भी तो 0-1 से जिसमें 3 मैच ड्रॉ हों ताकि इंग्लैंड के खिलाफ क्लीन स्वीप कर भारत फाइनल में जगह बना पाए।

आईसीसी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘यह भारत की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ और न्यूजीलैंड की पाकिस्तान के खिलाफ श्रृंखला के परिणाम पर निर्भर करता है। आस्ट्रेलिया नंबर एक पर अपनी बढ़त मजबूत कर सकता है या फिर न्यूजीलैंड के लिये शीर्ष पर पहुंचने का मार्ग प्रशस्त कर सकता है। ’’
कोविड-19 के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में व्यवधान के बाद अब अंतिम सूची का निर्धारण प्रतिशत अंकों से होगा। पहले हालांकि इसके लिये अंक प्रणाली घोषित की गयी थी।(भाषा)



और भी पढ़ें :