महिला टी-20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत का COVID टेस्ट आया पॉजीटिव, हुई क्वारंटाइन

Last Updated: मंगलवार, 30 मार्च 2021 (17:53 IST)
पटियाला: भारतीय महिला टी20 टीम की कप्तान का का परीक्षण पॉजीटिव आया है और उनमें इस बीमारी के हल्के लक्षण हैं।
हरमनप्रीत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांचवें एकदिवसीय मैच में चोटिल हो जाने के कारण इसके बाद टी20 श्रृंखला में नहीं खेल पायी थी। उन्होंने हल्का बुखार आने के बाद सोमवार को अपना परीक्षण करवाया था।

इस खिलाड़ी के करीबी सूत्रों ने बताया, ‘‘उसने स्वयं को घर में ही अलग थलग कर दिया है। उसने कल परीक्षण करवाया था और आज सुबह रिपोर्ट पॉजीटिव आयी है। उसे चार दिनों से हल्का बुखार था और इसलिए परीक्षण करवाना उचित समझा। वह वैसे ठीक है और उसे जल्द स्वस्थ हो जाना चाहिए। ’’
सूत्रों ने कहा, ‘‘दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला के दौरान उसका नियमित तौर पर परीक्षण किया जाता रहा है इसका मतलब है कि वह इसके बाद वायरस की चपेट में आयी।’’
इसके बाद हरमनप्रीत ने मंगलवार को ट्वीट में कहा, '' दुर्भाग्यवश मैं कोरोना से संक्रमित पाई गई हूं। मैं स्वस्थ महसूस कर रही हूं, लेकिन फिलहाल मैंने प्रशासन और अपने डॉक्टरों द्वारा बताई गई गाइडलाइंस के मुताबिक खुद को आइसोलेट कर लिया है। उन सभी लोगों से आग्रह है जो पिछले सात दिनों में मेरे संपर्क में आए हैं, कृपया अपनी सेफ्टी के लिए कोरोना टेस्ट जरूर करा लें। भगवान के आशीर्वाद और आपकी शुभकामनाओं से मैं जल्द मैदान पर वापस लौटूंगी। मैं सभी से आग्रह करती हूं कि मास्क लगाएं और सुरक्षित रहें। ''
भारतीय महिला टीम ने एक साल से भी अधिक समय बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की लेकिन वनडे और टी20 दोनों श्रृंखलाओं में उसे हार का सामना करना पड़ा।

लखनऊ के अटल बिहारी वाजपयी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गई इस सीरीज में भारत वनडे सीरीज 1-4 से हारा और टी-20 श्रृंखला 1-2 से हारा। अंतिम टी-20 में भारत दक्षिण अफ्रीका को 9 विकेट से हराकर क्लीन स्वीप की शर्मिंदगी से बच गई थी।

टी-20 की कप्तान हरमनप्रीत को हाल ही में सम्पन्न एक दिवसीय सीरीज के आखिरी मैच में मांसपेशियों में खिंचाव के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा था। उन्हे चोट के कारण पूरी टी-20 सीरीज से बाहर रखा गया था। उनकी गैरमौजूदगी में बाएं हाथ की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने भारतीय टीम की कप्तानी संभाली थी।

भारत के लिए हरमनप्रीत 100 वनडे और 100 टी-20 क्रिकेट मैच खेल चुकी हैं। कौर अब तक वनडे और टी20 मिलाकर 216 मैच खेल चुकी हैं। उन्होंने कुल 4624 अंतरराष्ट्रीय रन बनाए हैं। 2018 वनडे विश्कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दबाव में उन्होंने तूफानी पारी ने उनको ऐसी लोकप्रियता दिलाई कि हर क्रिकेट प्रेमी को उनका नाम अब जुंबा पर चढ़ गया है।

गौरतलब है कि हरमनप्रीत की कप्तानी में पहली बार भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने साल 2020 में टी-20 विश्वकप का फाइनल खेला। इस विश्वकप की टीम इंडिया उपविजेता रही थी और फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार गई थी।

हरमनप्रीत कौर एक स्ट्राइकर के तौर पर न केवल टीम में अपनी जगह बना चुकी हैं पर टी-20 विश्वकप जीतने से एक कदम दूर रहना यह बताता है कि उनकी कप्तानी इस फॉर्मेट के लिए काफी अच्छी है। वह अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को आगामी विश्वकप जिताने की कोशिश करेंगी क्योंकि पिछली बार फाइनल में हार ने उनके जन्मदिन को फीका कर दिया था।

उल्लेखनीय है कि भारत में पिछले तीन हफ्तों में कोरोना संक्रमण के मामलों में जबरदस्त वृद्धि हुई है। देश में सोमवार को कोरोना संक्रमण के 56 हजार नए मामले सामने आए हैं। हरमनप्रीत से अलावा क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर, सुब्रमणियम बद्रीनाथ और पठान बंधु (युसूफ पठान और इरफान पठान) भी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं।



और भी पढ़ें :