1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Harmanpreet Kaur reply leaves english presentator pale faced
Written By
पुनः संशोधित रविवार, 25 सितम्बर 2022 (15:54 IST)

Presentation ceremony में कप्तान हरमनप्रीत ने दीप्ति का ऐसा लिया पक्ष कि पूंछने वाला हो गया चुप (Video)

लंदन: भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने विवादास्पद लेकिन वैध रन आउट से इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार एकदिवसीय श्रृंखला में क्लीन स्वीप करने के बाद कहा कि उनकी टीम ने कोई अपराध नहीं किया है।

भारतीय गेंदबाज दीप्ति शर्मा ने नॉन स्ट्राइक छोर पर गेंदबाजी करने से पहले बाहर निकल गई चार्ली डीन को रन आउट कर दिया था जिससे भारत ने यह मैच 16 रन से जीता। हरमनप्रीत से इसी रन आउट के बारे में सवाल किए गए थे।

हरमनप्रीत ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा,‘‘ हमने आज जो कुछ किया मुझे नहीं लगता कि वह किसी तरह का अपराध था।’’

उन्होंने कहा,‘‘ यह खेल का हिस्सा है और यह आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) के नियमों के अंतर्गत है। मुझे लगता है कि हमें अपनी खिलाड़ी का समर्थन करना चाहिए। मुझे वास्तव में खुशी है कि वह इसको लेकर सजग थी और बल्लेबाज काफी आगे निकल गई थी। मुझे नहीं लगता कि उसने कुछ भी गलत किया और हमें केवल उसका समर्थन करने की जरूरत है।’’

श्रंखला की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनी गई भारतीय कप्तान ने यह मानने से इनकार कर दिया कि इस विवाद के कारण दिग्गज झूलन गोस्वामी के विदाई मैच की चमक फीकी पड़ गई।

उन्होंने कहा,‘‘ मैं ऐसा नहीं मानती जैसा कि मैंने पहले कहा कि मुझे नहीं लगता कि हमने कोई अपराध किया है। मुझे नहीं लगता कि हमें इस पर बात करने की जरूरत है क्योंकि पहले नौ विकेट भी बेहद महत्वपूर्ण थे और हर किसी ने इसके लिए कड़ी मेहनत की थी।’’

जब Presentation ceremony में पूछा गया कि आप सवाल को क्यों दरकिनार कर रही हैं तो हरमनप्रीत ने ऐसा जवाब दिया कि सामने वाला चुप हो गया।

हरमनप्रीत ने कहा,‘‘ यह लक्ष्य हासिल किया जा सकता था लेकिन हमारी गेंदबाजों ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की और पूरी टीम ने अच्छा प्रयास किया। केवल अंतिम विकेट पर चर्चा करने के बजाय जश्न मनाने के लिए कई और चीजें भी हैं।’’
हरमनप्रीत मैच के बाद पुरस्कार समारोह के दौरान प्रस्तोता के रवैए से भी नाराज दिखी जो कि भारत की ऐतिहासिक जीत के बजाय रन आउट पर सवाल किए जा रहा था।

भारतीय कप्तान ने कहा,‘‘ ईमानदारी से कहूं तो मैं सोच रही थी कि आप नौ विकेटों के बारे में भी बात करोगे जिन्हें हासिल करना आसान नहीं था। यह खेल का हिस्सा है। मुझे नहीं लगता कि हमने कुछ नया किया। इससे आपकी सजगता का पता चलता है कि बल्लेबाज क्या कर रहा है।’’
उन्होंने कहा,‘‘ मैं अपनी खिलाड़ी का समर्थन करती हूं। उसने ऐसा कुछ नहीं किया जो कि नियमों के विरुद्ध हो। पहले मैच के बाद हमने चर्चा की थी और हम वास्तव में बहुत अच्छा प्रदर्शन करना चाहते थे। हम इस तरह की क्रिकेट खेलना जारी रखना चाहते हैं।’’
हरमनप्रीत ने इस अवसर पर टी20 श्रृंखला के तीसरे मैच में स्मृति मंधाना को आउट दिए जाने का जिक्र भी किया क्योंकि तब सोफी एक्लेसटोन के कैच करने से पहले गेंद ने जमीन को स्पर्श कर दिया था।
आईसीसी ने हाल में इस तरह के रन आउट को पूरी तरह से वैध श्रेणी में डाल दिया था।इंग्लैंड की तेज गेंदबाज केट क्रॉस ने कहा कि इस तरह के रन आउट पर अलग-अलग राय रखना लाजमी है।उन्होंने कहा,‘‘ इस तरह के आउट होने पर हमेशा लोगों की राय भिन्न होगी। कुछ लोग इसे पसंद करेंगे तो कुछ नापसंद। दीप्ति ने चार्ली डीन को इस तरह से आउट करना सही माना। मुझे इस बात की अधिक निराशा है कि चार्ली डीन लॉर्ड्स में अर्धशतक पूरा नहीं कर पाई।’’
ये भी पढ़ें
इस पूर्व भारतीय स्पिनर के नाम पर रखा गया था मांकड़िग रन आउट का नाम (Video)