पहली बार धोनी के बिना आईसीसी का फाइनल खेलती नजर आएगी विराट एंड कंपनी

Last Updated: गुरुवार, 17 जून 2021 (14:41 IST)
शुक्रवार, 18 जून से साउथम्प्टन के एजेस बाउल में भारत और न्यूजीलैंड के बीच ऐतिहासिक आईसीसी वर्ल्ड के फाइनल का आगाज होने जा रहा है। पहली बार टेस्ट फॉर्मेट में इतने बड़े फाइनल का आयोजन होने जा रहा है, जिस कारण दुनिया भर के फैंस और क्रिकेट एक्सपर्ट्स के बीच इसको लेकर एक अलग ही उत्साह देखने को मिल रहा है।
फाइनल में टीम करेगी धोनी को मिस

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में टीम इंडिया को पूर्व दिग्गज कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कमी खल सकती है। दरअसल, भारतीय टीम धोनी के संन्यास के बाद पहली बार किसी आईसीसी इवेंट का फाइनल मैच खेलती नजर आएगी।

धोनी ने पिछले साल 15 अगस्त के मौके पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अपने संन्यास का ऐलान कर दिया था और अंतिम बार उनको साल 2019 के आईसीसी एकदिवसीय विश्व कप में खेलते देखा गया था। खास बात तो यह है कि वह मैच भी कीवी टीम के खिलाफ खेला गया था और ये भी उसी टीम के खिलाफ खेला जाएगा।

धोनी का रहा आईसीसी इवेंट में दबदबा



जानकारी के लिए बता दें कि, महेंद्र सिंह धोनी को आईसीसी इवेंट का चैंपियन माना जाता है। धोनी दुनिया के एकमात्र ऐसे कप्तान है, जिन्होंने आईसीसी की तीनों ट्रॉफी पर कब्ज़ा जमाया है। उनकी ही अगुवाई में भारत ने साल 2007 में आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप, साल 2011 में वनडे विश्व कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्ज़ा जमाया था।

इतना ही नहीं 2014 में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया ने धोनी की कप्तानी में फाइनल तक का सफर भी तय किया था और 2015 के एकदिवसीय विश्व कप में टीम सेमीफाइनल तक पहुंची थी।



इस बात में कोई शक नहीं है कि, भारतीय टीम को टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में धोनी के अनुभव की कमी साफतौर पर खेलने वाली है।



और भी पढ़ें :