फील्डिंग ही नहीं, हर विभाग में बेहतर प्रदर्शन की जरूरत थी : शिखा पांडे

पुनः संशोधित सोमवार, 9 मार्च 2020 (18:40 IST)
मेलबोर्न। सीनियर तेज गेंदबाज शिखा पांडे ने स्वीकार किया कि टी20 विश्व कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को फील्डिंग ही नहीं, बल्कि हर विभाग में उन्नीस साबित कर दिया। ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में भारत को 85 रन से हराया। पांडे ने आईसीसी की वेबसाइट पर लिखा, हम नर्वस नहीं थे। एक बार मैदान पर उतरने के बाद सहज हो जाते हैं।
उन्होंने कहा कि बेथ मूनी (नाबाद 78) और एलिसा हीली (75) के कैच छोड़ना भारत को महंगा पड़ा। मूनी को राजेश्वरी गायकवाड़ और हीली को शैफाली वर्मा ने जीवनदान दिया। पांडे ने कहा, अगर बल्लेबाजों को इस तरह मौके दिए जाएं तो वे दबाव बनाएंगे ही। इसका हमें खामियाजा भुगतना पड़ा। हमें तीनों विभाग में अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए था।

उन्होंने कहा, टूर्नामेंट का हिस्सा रहना सौभाग्य की बात रही, लेकिन फाइनल में हारना निराशाजनक था। हमें हालांकि महान टेनिस खिलाड़ी बिली जे किंग से मिलने का मौका मिला जिन्होंने महिला खेलों के लिए इतना काम किया है। उन्होंने कहा, उन्होंने हमें कड़ी मेहनत करते रहने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि हम बदकिस्मत रहे जो हार गए।




और भी पढ़ें :