इंफोसिस ने दी 9200 करोड़ रुपए की शेयर पुनर्खरीद योजना को मंजूरी

पुनः संशोधित बुधवार, 14 अप्रैल 2021 (21:41 IST)
नई दिल्ली। इंफोसिस ने बुधवार को कहा कि उसके निदेशक मंडल ने 9200 करोड़ रुपए की शेयर पुनर्खरीद योजना को मंजूरी दे दी है। इसके तहत सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी 1750 रुपए प्रति इक्विटी के भाव पर शेयर पुनर्खरीद करेगी। पुनर्खरीद बेंगलुरु की कंपनी की 15600 करोड़ रुपए की पूंजी लौटाने की योजना का हिस्सा है। इसमें 6,400 करोड़ रुपए का अंतिम लाभांश शामिल है।
को दी सूचना में कंपनी ने कहा कि शेयर पुनर्खरीद घरेलू शेयर बाजारों के माध्यम से खुले बाजार के जरिए की जाएगी। वित्त वर्ष 2019-20 से इंफोसिस ने अपनी पूंजी आवंटन योजना को बढ़ाया था और कहा था कि वह मुक्त नकद प्रवाह का 85 प्रतिशत पांच साल में पुनर्खरीद और लाभांश के जरिए लौटाएगी।

इंफोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी निलंजन रॉय ने कहा, हमने 6,400 करोड़ रुपए लाभांश और 9200 करोड़ रुपए की शेयर पुनर्खरीद की घोषणा की है। हमने 2020-21 और 2019-20 में संचयी रूप से 85 प्रतिशत में से 83 प्रतिशत का भुगतान कर दिया है। ये दो साल पूंजी आवंटन नीति के पहले दो साल थे।

अत: हमने जो नीति बनाई थी, यह उसके अनुरूप है...।इंफोसिस का शेयर मंगलवार को बीएसई में 1,398.60 रुपए प्रति इक्विटी पर बंद हुआ। पुनर्खरीद मूल्य पिछले बंद भाव के मुकाबले 25 प्रतिशत अधिक है।

इससे पहले, अगस्त 2019 में इंफोसिस ने 11.05 करोड़ शेयर पुनर्खरीद 8,260 कराड़ रुपए में की थी। कंपनी की पहली पुनर्खरीद दिसंबर 2017 में 13,000 करोड़ रुपए की थी। इसमें 1,150 रुपए प्रति शेयर के भाव से 11.3 करोड़ इक्विटी खरीदी गई थी।(भाषा)



और भी पढ़ें :