सामाजिक व्यवस्था पर हाइकू रचना...


हाइकू-3 
 
 
1. रोटी की सत्ता 
जलती है जिंदगी 
साब का कुत्ता। 
 
2. स्याह जवानी 
सहमा-सा विश्वास 
बढ़ती बेटी। 
 
3. विलोपित स्त्री 
मनुष्य की जनक 
क्या अधिकार?
 
4. स्त्री के बंधन 
पति का बलात्कार 
भाई की मार। 
 
5. दलित बेटी 
नवरात्र पूजन 
कन्या भोजन। 
 
6. पुत्र का जन्म 
जगमग है घर 
छाईं खुशियां। 
 
7. बेटी का जन्म 
घर भर कराहे 
छाया मातम। 
 
8. नैतिक खूंटे 
बंधी हुईं नारियां 
खोलो बंधन। 
 
9. शब्दकोशों में 
जब्त परिभाषाएं 
सुनो सिसकी। 
 
10. सशंकित मां
सामाजिक मर्यादाएं 
कैद लड़की 
 
11. पुत्र दुत्कारे 
पति का बहिष्कार 
समाज मौन।
 
12. बेटी की विदा 
अजनबी का घर 
सब स्वीकार। 



और भी पढ़ें :