हनुमान जयंती 2021 : इस बार बन रहे हैं कौन से शुभ संयोग,जानिए दिन भर के 7 शुभ मुहूर्त


हनुमान जी की जयंती 27 अप्रैल 2021 को मनाई जाएगी। हनुमान जी का जन्म चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि को हुआ था। इस साल हनुमान जयंती 27 अप्रैल को मनाई जा रही है। इस दिन हनुमान जी की विधि-विधान से पूजा करने से उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है। संकटमोचन हनुमान अपने भक्तों के सभी कष्ट दूर कर मनोकामनाओं को पूरा करते हैं। इस साल हनुमान जयंती कई शुभ योगों और शुभ मुहूर्त में मनाई जाएगी। हनुमान जयंती के दिन सिद्धि योग और व्यतीपात योग बन रहा है।
सिद्धि योग के साथ व्यतिपात योग
हनुमान जयंती के दिन सिद्धि योग शाम 08 बजकर 3 मिनट तक रहेगा। इसके बाद व्यतिपात लग जाएगा। इस दिन स्वाती नक्षत्र शाम 08 बजकर 8 मिनट तक रहेगा। उसके बाद विशाखा नक्षत्र लगेगा।
श्री हनुमान जयंती के 7 शुभ मुहूर्त
27 अप्रैल 2021

26 अप्रैल 2021: दोपहर 12.44 मिनट पर पूर्णिमा तिथि आरंभ
27 अप्रैल 2021: रात्रि 9.01 मिनट पर पूर्णिमा तिथि का समापन
हनुमान जयंती शुभ मुहूर्त

1.ब्रह्म मुहूर्त- प्रात: 04:06
से 04:50 तक
2.अभिजीत मुहूर्त- 11:40 से 12:33 तक
3.अमृत काल- 12:26 से 01:50 तक
4.विजय मुहूर्त- 02:17 से 03:09 तक
5.गोधूलि मुहूर्त- 06:26 से 06:49 तक
6.त्रिपुष्कर योग- 05:14
से 05:33 तक
7.निशिता मुहूर्त- रात्रि 11:44 से 12:28 तक

हनुमान जयंती पूजा विधि-
1। हनुमान जयंती के दिन जातक को ब्रह्म मुहूर्त में उठना चाहिए।
2। इसके बाद घर की साफ-सफाई करने के बाद गंगाजल का छिड़काव कर घर को पवित्र कर लें।
3। स्नान आदि के बाद हनुमान मंदिर या घर पर पूजा करनी चाहिए।
4। पूजा के दौरान हनुमान जी को लाल सिंदूर और चोला अर्पित करना चाहिए।
5। मान्यता है कि चमेली का तेल अर्पित करने से हनुमान जी प्रसन्न होते हैं।
6। पूजा के दौरान सभी देवी-देवताओं को जल और पंचामृत अर्पित करें।
7। अब अबीर, गुलाल, अक्षत, फूल, धूप-दीप और भोग आदि लगाकर पूजा करें।
8। हनुमान चालीसा का पाठ करें।
9। आरती के बाद प्रसाद वितरित करें।
हनुमान स्तुति मंत्र
अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं।
दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम्।।
सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं।
रघुपतिप्रियभक्तं वातजातं नमामि।।



और भी पढ़ें :