IPL 2021 को अब तक मिले 38 करोड़ दर्शक, पिछले सीजन से 1 करोड़ 20 लाख ज्यादा, जय शाह ने किया ट्वीट

पुनः संशोधित गुरुवार, 30 सितम्बर 2021 (19:37 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली: (बीसीसीआई) के सचिव मौजूदा इंडियन प्रीमियर लीग में टीवी दर्शकों की संख्या से खुश हैं और उन्होंने टूर्नामेंट का समर्थन करने के लिए प्रशंसकों को धन्यवाद दिया।

कोविड-19 महामारी के कारण मई में आईपीएल सत्र को बीच में निलंबित किया गया था क्योंकि भारत में जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में संक्रमण के कई मामले आ गए थे। दूसरा चरण यूएई में इसी महीने शुरू हुआ और प्रशंसकों की इसमें रुचि बढ़ रही है जिससे दर्शकों की संख्या में इजाफा हुआ।

शाह ने ट्वीट किया, ‘‘मुझे यह जानकारी साझा करते हुए खुशी हो रही है कि आईपीएल 2021 के दर्शकों की संख्या में काफी इजाफा होना जारी है। टीवी दर्शकों की संख्या 38 करोड़ (35वें मैच तक) है जो 2020 में इसी चरण तक दर्शकों की संख्या से 1 करोड़ 20 लाख ज्यादा है। सभी को धन्यवाद। यहां से चीजें और अधिक रोमांचक होंगी।’’
आईपीएल का भारत में सीधा प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स पर हो रहा है।

IPL का UAE जाना भारत के लिए वरदान साबित हुआ : जय शाह

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने आईपीएल के संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में शिफ्ट होने को भारत के लिए वरदान बताया है।

उन्होंने आईपीएल के आयोजन स्थल बदलने को अंग्रेजी के एक मुहावरे ‘ ब्लेसिंग इन डिस्ग्यूज ’ से जोड़ा है, जिसका मतलब ‘बुराई में छिपी अच्छाई’ होता है। शाह ने मेल के जरिए राज्य क्रिकेट संघों को मंगलवार लिखे एक पत्र में कहा, “ हमें बाद में समझा आया कि यह हमारे लिए बुराई में छिपी अच्छाई है, क्योंकि आईपीएल के तुरंत बाद यूएई में टी-20 विश्व कप होना है और ऐसे में आईपीएल स्तर के टूर्नामेंट से बेहतर और तैयारी नहीं हो सकती है। यूएई में आईपीएल खेलना आगामी आईसीसी टी-20 विश्व कप से पहले भारत के लिए आदर्श तैयारी के रूप में काम करेगा। ” उल्लेखनीय है कि आईपीएल 15 अक्टूबर को समाप्त हो रहा है, जिसके दो दिन बाद विश्व कप शुरू होगा।

सचिव ने एक मेल में राज्य क्रिकेट इकाइयों के अध्यक्ष और सचिव को आईपीएल प्ले-ऑफ और फाइनल के लिए आमंत्रित करते हुए कहा कि उन्हें मुझे विश्वास है कि आईपीएल का दूसरा चरण विश्व कप से पहले आदर्श तैयारी प्रदान करेगा और भारतीय टीम को बेहतर तरीके से तैयार करेगा। शाह ने उन प्रयासों पर भी प्रकाश डाला जो भारत में अाईपीएल की मेजबानी के लिए किए गए थे और यह सब कैसे धरे रह गए, जब टूर्नामेंट में कोरोना ने सेंध लगा दी थी।

शाह ने टूर्नामेंट में आगे कोई परेशानी न होने की उम्मीद जताते हुए कहा, “ बाहरी दुनिया के लिए यह पिछले साल की तरह दोहराई गई योजना हो सकती है, जब बीसीसीआई ने संयुक्त अरब अमीरात में आईपीएल के 13वें सत्र की मेजबानी की थी, लेकिन आईपीएल के 14वें सीजन को पूरा करने में जो प्रयास धरे रह गए हैं वो सिर्फ बीसीसीआई और उसके राज्य संघों को ही पता है। जब आखिरकार सब कुछ ठीक लग रहा था, हम संक्रमण से प्रभावित हो गए और संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़ने के कारण टूर्नामेंट को अस्थायी रूप से स्थगित करना पड़ा। हम सभी ने आईपीएल की भारत में वापसी सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत की, जो इसका असली घर है। साथ ही साथ हमने लीग के बीच में किसी के संक्रमित पाए जाने की संभावना से इंकार नहीं किया, हमने ढीले छोरों को कसने के लिए अपनी पूरी कोशिश की थी। ”

शाह ने खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ की आवाजाही को सुचारू रूप से सुनिश्चित करने के लिए किए गए प्रयासों के बारे में कहा, “ कड़े उपायों के बावजूद कोरोना वायरस ने बायो-बबल में सेंध लगा दी थी, जिससे हमें सभी के स्वास्थ्य और सुरक्षा को प्राथमिकता पर रखते हुए लीग को स्थगित करने के लिए मजबूर होना पड़ा। बीसीसीआई हमेशा अपने हितधारकों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा रहा और हमने तब जाकर चैन की सांस ली, जब सभी खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ के सदस्य और मैच अधिकारी अपने-अपने गंतव्य पर पहुंच गए। ”

शाह ने यह भी बताया कि शेष आईपीएल सत्र के लिए सितंबर-अक्टूबर की खिड़की कैसे लॉक की गई थी। उन्होंने कहा, “ चुनौतीपूर्ण चरण के दौरान, आप में से कुछ लोग मेरे पास पहुंचे और अधूरे काम को पूरा करने का भरोसा जताया। इसने निश्चित रूप से मेरे और बोर्ड में मेरे सहयोगियों के आत्मविश्वास को बढ़ाया और हमने जल्द ही एक उपयुक्त खिड़की की पहचान करने के अपने कार्यों को शुरू किया। हमने सभी बोर्डों से संपर्क किया, आवश्यक अनुमति प्राप्त की और यूएई सरकार तथा अमीरात क्रिकेट बोर्ड के साथ मिलकर काम किया। आईसीसी मेन्स टी-20 विश्व कप से ठीक पहले की विंडो की पहचान की गई और तुरंत लॉक कर दिया गया। ”



और भी पढ़ें :