IPL 13 : CSK के कोच फ्लेमिंग बोले, हम अपने खिलाड़ियों का साथ नहीं छोड़ते

Last Updated: सोमवार, 5 अक्टूबर 2020 (14:57 IST)
दुबई। के ने कहा कि खराब नतीजों के बावजूद उनकी टीम ने अपने खिलाड़ियों पर भरोसा कायम रखा और ऑस्ट्रेलियाई हरफनमौला का फॉर्म इसका उदाहरण है कि उनका फैसला सही था।
ALSO READ:
IPL 13: तेवतिया ने खोला राज, पंजाब के खिलाफ कैसे खेली धमाकेदार पारी
सलामी बल्लेबाजी वॉटसन ने 5वें मैच में 53 गेंदों में 83 रन बनाए जिसकी मदद से चेन्नई ने हार की हैट्रिक के बाद रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेट से हराया। फ्लेमिंग ने मैच के बाद ऑनलाइन प्रतिक्रिया में कहा कि इससे मदद मिलती है, क्योंकि खिलाड़ियों को पता होता है कि उन्हें और मौके मिलेंगे। हम टीम में बदलाव की बजाय अपनी कमियों को ठीक करने में भरोसा करते हैं। आपको यह भी पता नहीं होता कि बदलाव कारगर होगा भी या नहीं?
उन्होंने कहा कि हम सुधार की कोशिश करते हैं और खिलाड़ी सही होने पर हम उनका दूर तक साथ देते हैं। यह पूछने पर कि वॉटसन ने खराब फॉर्म से उबरने के लिए क्या किया, फ्लेमिंग ने कहा कि 'कुछ नहीं।' उन्होंने कहा कि अनुभवी खिलाड़ी की यही ताकत होती है। अगर वह नेट्स पर खराब फॉर्म में होता तो समस्या थी लेकिन वह अच्छा खेल रहा था। यह समय की बात होती है। उसका फॉर्म हमारे लिए बहुत अहम है।

10 विकेट से जीत के बावजूद कोच ने कहा कि उनकी टीम सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं है। उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रदर्शन से बहुत कुछ ढंक जाता है लेकिन हम सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं हैं। फाफ अच्छा खेल रहा था और अब वॉटसन भी फॉर्म में लौटा है। (भाषा)



और भी पढ़ें :