IPL में 5वीं बार चैम्पियन बनकर मुंबई इंडियंस ने तोड़ा 'ऑड और ईवन' का मिथक

Hardik and Krunal Pandya
वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: गुरुवार, 12 नवंबर 2020 (00:25 IST)
दुबई। नई दिल्ली में वायु प्रदूषण को रोकने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कई बार 'ऑड और ईवन' (सम और विषम) संख्या वाली कारों को सड़क पर चलाने का प्रयोग करते रहे हैं। (Mumbai Indians) की टीम ने (IPL) में बीती रात 'ऑड और ईवन' के इस मिथक को तोड़ दिया। 2013, 2015, 2017 और 2019 में मुंबई आईपीएल चैम्पियन बना था यानी हर दो साल में उसके पास खिताब था लेकिन उसने 2020 में भी इस खिताब पर अपना कब्जा जमा लिया।
रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस और श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स को शुरुआत से ही खिताब का दावेदार माना जा रहा था। लीग स्टेज के 14 मैचों की समाप्ति पर की अंक तालिका में मुंबई इंडियंस टॉप पर थी जबकि दूसरे नंबर पर दिल्ली कैपिटल्स की टीम थी।

दिल्ली की टीम आईपीएल 2019 में सबसे आखरी पायदान पर थी और 2020 में फाइनल खेल रही थी। टीकायह कहने से चूक नहीं रहे थे कि हर 2 साल में 2013, 2015, 2017, 2019 चैम्पियन बनने वाली टीम यह रिकॉर्ड बरकरार रखेगी और दिल्ली के रूप में आईपीएल को नया चैम्पियन मिल सकता है लेकिन हुआ इससे बिलकुल उलट...मुंबई मैच को एकतरफा बनाते हुए लगातार दूसरे साल आईपीएल का खिताब जीता और ऑड ईवन का गणित लगा रहे विशेषज्ञों को ठेंगा दिखा दिया।
दिल्ली ने मंगलवार को आईपीएल-13 के खिताबी मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 7 विकेट पर 156 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। इसके बाद मुंबई ने 18.4 ओवर में पांच विकेट पर 157 रन बनाकर आसानी से खिताब अपने नाम कर लिया और पहली बार फाइनल खेल रही दिल्ली का आईपीएल का नया चैंपियन बनने का सपना टूट गया।

रोहित ने आईपीएल खिताब जीतने के बाद कहा, पूरे सीजन में जिस तरह से हम खेले उससे मैं बहुत खुश हूं। हमने शुरुआत में कहा था कि हमें जीतने की आदत डालने की जरूरत है। हम इससे ज्यादा की चाहत नहीं कर सकते। हमने आगे बढ़ने के बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। मुझे लगता है कि जीत का बहुत सारा श्रेय पर्दे के पीछे काम करने वाले लोगों को जाता है। इन लोगों की मेहनत पर अकसर किसी का ध्यान नहीं जाता।




और भी पढ़ें :