Lokesh Rahul ने रचा इतिहास, लगातार 3 IPL में बनाए 500 से ज्यादा रन

KL Rahul
Last Updated: सोमवार, 19 अक्टूबर 2020 (19:18 IST)
दुबई। (Kings XI Punjab) के कप्तान (Lokesh Rahul) लगातार 3 आईपीएल (IPL) में बनाने का अनूठा
कारनामा करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं।राहुल ने (Mumbai Indians) के खिलाफ रविवार को खेले गए मुकाबले में अपनी 77 रन की पारी से यह उपलब्धि हासिल की।
राहुल ने 2018 के सत्र में 14 मैचों में 54.91 के औसत से 659 रन बनाए थे। उन्होंने 2019 के सत्र में 14 मैचों में 53.90 के औसत से 593 रन बनाए थे। राहुल 2020 के सत्र के नौ मैचों में 75.00 के औसत से 525 रन बना चुके हैं। वह पहले भारतीय खिलाड़ी हैं जिन्होंने लगातार तीन आईपीएल में 500 से ज्यादा रन बनाए हैं।

क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर, मौजूदा भारतीय कप्तान विराट कोहली और सुरेश रैना ने लगातार दो-दो सत्रों में 500 से ज्यादा रन बनाए थे। विराट और रैना ने आईपीएल में तीन सत्रों में 500 से ज्यादा रन बनाने का कारनामा किया है और इस मामले में राहुल अब उनकी बराबरी पर पहुंच गए हैं। लेकिन लगातार तीन सत्रों में 500 से ज्यादा रन बनाने वाले राहुल एकमात्र भारतीय बल्लेबाज हैं।

राहुल ने इस सत्र में पांच अर्धशतक जमाए हैं और आईपीएल में 2500 रन भी पूरे कर लिए हैं। यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह 23वें खिलाड़ी और 17वें भारतीय खिलाड़ी बने। आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा चार सत्रों में 500 से ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर के नाम है जबकि डेविड वार्नर और क्रिस गेल ऐसे विदेशी खिलाड़ी हैं जिन्होंने लगातार तीन सत्रों में 500 से ज्यादा रन बनाए हैं।

वार्नर ने 2016 में 848 रन, 2019 में 692 रन, 2017 में 641 रन और 2015 में 562 रन बनाए थे। गेल ने 2013 में 708 रन, 2012 में 733 रन और 2011 में 608 रन बनाए थे। वार्नर और गेल दो विदेशी खिलाड़ी हैं जिन्होंने लगातार तीन सत्रों में 500 या उससे ज्यादा रन बनाए हैं।

सचिन ने 2010 के सत्र में 15 मैचों में 618 रन और 2011 के सत्र में 16 मैचों में 553 रन बनाए थे। विराट ने 2016 में 16 मैचों में 973 रन बनाए थे जो एक आईपीएल में सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड है। उन्होंने 2015 में 16 मैचों में 505 रन बनाए थे।
विराट ने 2013 के सत्र में 16 मैचों में 634 रन बनाए। रैना ने 2013 के सत्र में 18 मैचों में 548 रन, 2014 के सत्र में 16 मैचों में 523 रन और 2010 के सत्र में 16 मैचों में 520 रन बनाए थे।(वार्ता)



और भी पढ़ें :