गंभीर युग के बाद आरसीबी के खिलाफ नई शुरुआत करने उतरेगा केकेआर

पुनः संशोधित शनिवार, 7 अप्रैल 2018 (17:08 IST)
कोलकाता। अपने नए कप्तान की अगुवाई में के 11वें सत्र में अपने अभियान की शुरुआत रविवार को मजबूत मानी जाने वाली टीम रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु के खिलाफ जीत के साथ करना चाहेगी।

केकेआर के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर के बिना नई पहचान बनाना चाहेगी और ऐसे में रविवार को खचाखच भरे ईडन गार्डंस में दर्शक अगर आरसीबी की जर्सी पहने विराट कोहली के लिए तालियां बजाते हैं तो कोई हैरानी नहीं होगी। इस मुकाबले से पहले आरसीबी के खिलाफ केकेआर का रिकॉर्ड 12-9 का है।


जीत प्रतिशत ज्यादा होने के बावजूद भी केकेआर के बल्लेबाजी कोच साइमन कैटिच ने आरसीबी के मुकाबले अपनी टीम को कमजोर बताया। श्रीलंका में हाल ही में खेले गए टी-20 त्रिकोणीय श्रृंखला के फाइनल में आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर जीत दिलाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने अपने प्रदर्शन से केकेआर के समर्थकों का भरोसा बढ़ाया है।

उनके सामने टीम को 2 बार 2012 और 2014 में चैंपियन बनाने वाले गंभीर से बेहतर प्रदर्शन करने की चुनौती होगी। टीम के सामने कई चुनौतियां हैं जिसमें कमजोर मध्यक्रम के साथ सही संतुलन बनाने के अलावा ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क के हटने के बाद कमजोर हुए गेंदबाजी आक्रमण से निपटना भी शामिल है।

कार्तिक के पास रिंकू सिंह के अलावा अंडर-19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे शुभमान गिल, शिवम मावी और कमलेश नागरकोटि जैसे युवा खिलाड़ी हैं। केकेआर की टीम रॉबिन उथप्पा, क्रिस लिन, आंद्रे रसेल, सुनील नारायण, पीयूष चावला और कुलदीप यादव पर काफी निर्भर रहेगी। टीम की सपोर्ट स्टाफ पुरानी है जिसमें मुख्य कोच जैक कैलिस 2011 से केकेआर के साथ हैं।

कैटिच नए कप्तान का मार्गदर्शन और समर्थन करेंगे। लिन और रसेल चोट से वापसी कर रहे हैं तो वहीं नारायण ने संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन का आरोप लगने के बाद उसमें बदलाव किया है। स्टार्क की गैरमौजूदगी में दिग्गज मिशेल जॉनसन पर टीम की तेज गेंदबाजी का दारोमदार होगा। आर. विनय कुमार का आईपीएल में कोई खास प्रदर्शन नहीं रहा है।

स्टार्क की जगह टीम में शामिल हुए टॉम कुर्रेन ने भारत में अभी तक मैच नहीं खेला है। केकेआर यहां एक बार फिर पिछले साल के प्रदर्शन को दोहराना चाहेगी। जब टीम ने पहले मैच में आरसीबी को महज 49 रनों पर आउट कर जीत दर्ज की थी तो वहीं दूसरे मुकाबले में नारायण की 17 गेंदों में 54 रनों की पारी के बूते आरसीबी को शिकस्त दी थी।

आरसीबी के लिए अच्छी बात यह है कि कप्तान और बल्लेबाज के तौर पर कोहली का कद पिछले 1 साल में काफी बड़ा हुआ है। भारतीय कप्तान मौजूदा सत्र का खिताब जीतकर साल का अंत शानदार तरीके से करना चाहेंगे। कोहली और एबी डिविलियर्स एक बार फिर शीर्ष क्रम को मजबूती प्रदान करेंगे। दोनों ने मिलकर 53 पारियों में 2,212 रन जोड़े हैं जिसमें 7 शतकीय साझेदारियां शामिल हैं।
टीमें-

केकेआर : दिनेश कार्तिक (कप्तान), क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा, आन्द्रे रसेल, नीतीश राणा, सुनील नारायण, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, मिशेल जॉनसन, शुभमान गिल, विनय कुमार, रिंगू सिंह, कैमरन डेल्पोर्ट, जैवन शियरलेस, अपूर्व वानखेड़े, इशांक जग्गी और टॉम कुर्रेन।

आरसीबी : विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, सरफराज खान, क्रिस वोक, युजवेंद्र सिंह चहल, उमेश यादव, ब्रैंडन मैक्कुलम, वॉशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी, क्विंटन डिकॉक, मोहम्मद सिराज, कोलिन डे ग्रैंडहाम, कोरी एंडरसन, एम. अश्विन, पार्थिव पटेल, मोईन अली, मनदीप सिंह, मानन वोहरा, पवन नेगी, टिम साउदी, कुलवंत खेजरोलिया, अनिकेत चौधरी, पवन देशपांडे, अनिरुद्ध जोशी।
मैच रात 8 बजे से खेला जाएगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :