पाकिस्तान में शादी के मंडप से हिंदू लड़की अगवा, जबरन कराया निकाह

पुनः संशोधित मंगलवार, 28 जनवरी 2020 (08:59 IST)
कराची। के सिंध में एक सनसनीखेज घटनाक्रम में एक हिंदू लड़की को शादी के मंडप से अगवा कर बलात मुस्लिम बनाया गया और फिर उसका करा दिया गया। अगवा लड़की के परिजनों का आरोप है कि अपहरण और धर्मांतरण के इस मामले में आरोपियों को पुलिस का पूरा सहयोग मिला।
लड़की के अपहरण और धर्मांतरण की वारदात कराची से 215 किलोमीटर दूर हाला शहर में हुई। अपहरण के वक्त एक हिंदू लड़के से विवाह की रस्म चल रही थी।

लड़की के पिता किशोर दास ने आरोप लगाया कि मेरी पुत्री के विवाह की रस्म चल रही थी तभी आरोपी शाहरुख गुल कुछ लोगों और पुलिसवालों के साथ आया और दिनदहाड़े मेरी लड़की को अगवा करके ले गया। बताया जा रहा है कि लड़की की उम्र 24 साल है। धर्मातरण के बाद लड़की का निकाह जबरदस्ती एक मुस्लिम लड़के से करवा दिया गया है।
सोशल मीडिया पर लड़की के इस्लाम में धर्मांतरित होने और आरोपी शाहरुख के साथ निकाह की तस्वीरे वायरल हो रही हैं। धर्मांतरण प्रमाणपत्र के मुताबिक लड़की का नाम बदलकर बुशरा हो गया है। धर्मातंरण प्रमाणपत्र को कराची के जमीयत उल उलेमा इस्लामिया के मुफ्ती अबु बकर सईद उर रहमान ने जारी किया है। प्रमाणपत्र में धर्मांतरण की तारीख 1 दिसंबर 2019 दर्ज है।

वहीं इस मामले में आरोपी शाहरुख का कहना है कि बुशरा मेरी बीवी है और उसके पिता जबरन उसका विवाह एक हिंदू लड़के से कर रहे थे।


और भी पढ़ें :