ऑस्ट्रेलियाई PM मॉरिसन से मिले मोदी, रक्षा, व्‍यापार और Corona पर हुई चर्चा

Last Updated: शुक्रवार, 24 सितम्बर 2021 (00:40 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका यात्रा के आज दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कारोबारी जगत के शीर्ष प्रतिनिधियों से मिलने के बाद पहली कूटनीतिक बैठक ऑस्ट्रेलिया के के साथ की और हिन्द प्रशांत क्षेत्र में परस्पर सहयोग एवं समन्वय बढ़ाने के इरादे का इजहार किया।
मोदी ने भारतीय समयानुसार आज शाम करीब सवा सात बजे से पांच बड़ी कंपनियों क्वालकॉम, एडोब, फर्स्ट सोलर, जनरल एटॉमिक्स और ब्लैकस्टोन के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) से अलग-अलग मुलाकातें कीं और उन्हें भारत में निवेश के अवसरों की जानकारी देने के साथ इसका लाभ उठाने का आह्वान किया।

स्थानीय समयानुसार, दिन में डेढ़ बजे (भारतीय समयानुसार रात करीब 11 बजे) मोदी और मॉरिसन के बीच हुई। इस बैठक में विदेश मंत्री एस जयशंकर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला एवं विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव (अमेरिका) सुश्री वाणी राव भी उपस्थित थीं।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने करीब आधे घंटे की इस मुलाकात के बाद ट्वीट करके कहा कि मोदी ने मॉरिसन के साथ अनेक विषयों पर बातचीत की जिनका मकसद भारत एवं ऑस्ट्रेलिया के बीच आर्थिक एवं जनता के बीच पारस्परिक संबंधों को गहन एवं मजबूत बनाना है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि दोनों नेताओं ने हाल की तमाम क्षेत्रीय एवं वैश्विक घटनाओं के अलावा कोविड-19 महामारी, व्यापार, रक्षा, स्वच्छ ऊर्जा एवं अन्य मुद्दों पर द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने के बारे में चर्चा की।

समझा जाता है कि जलवायु परिवर्तन, आर्थिक संबंधों के साथ अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद को काबू करने तथा हिन्द प्रशांत क्षेत्र में चीनी विस्तारवाद को नियंत्रित रखने के लिए रणनीतिक सहयोग एवं समन्वय बढ़ाने के बारे में अहम बातचीत हुई है जो कल चतुष्कोणीय यानी क्वाड शिखर बैठक में भी जारी रहेगी।
ALSO READ:

AUKUS देगा चीन को चुनौती, अमेरिका ने किया इन देशों के साथ रक्षा समझौता
प्रधानमंत्री मोदी की मॉरिसन के साथ कोविड पश्चात काल में यह पहली रूबरू मुलाकात थी। दोनों नेताओं के बीच तीन बार टेलीफोन पर बात हो चुकी है। आखिरी बातचीत हाल में हुई है। जून 2020 में दोनों नेता वर्चुअल बैठक में शामिल हुए थे जिसमें भारत-ऑस्ट्रेलिया संबंधों को समग्र रणनीतिक साझीदारी के स्तर पर लाया गया था।
हाल ही में दोनों देशों के बीच भी विदेश एवं रक्षामंत्रियों की टू प्लस टू संवाद बैठक की घोषणा हुई है और ऑस्ट्रेलियाई मंत्री भारत आ रहे हैं। इसी संदर्भ में दोनों प्रधानमंत्रियों ने द्विपक्षीय संबंधों के सभी पहलुओं के बारे में बात की तथा समान हितों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की।

इसके बाद मोदी अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस तथा बाद में जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदा सुगा के साथ भी द्विपक्षीय मुलाकात करेंगे। मोदी की जापानी प्रधानमंत्री सुगा से यह पहली रूबरू मुलाकात होगी।(वार्ता)



और भी पढ़ें :