बांग्लादेशी ही थे ढाका के रेस्तरां पर हमला करने वाले

ढाका| पुनः संशोधित रविवार, 3 जुलाई 2016 (09:55 IST)
हमें फॉलो करें
ढाका। बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक लोकप्रिय रेस्तरां में हमला करने वाले सातों आतंकवादी स्थानीय नागरिक थे और उनमें से पांच को पहले गिरफ्तार करने की कोशिश की गई थी।
 
राष्ट्रीय पुलिस प्रमुख शाहिदुल हक ने कहा कि सभी बंदूकधारी बांग्लादेशी थे। उनमें से पांच आतंकवादियों की सूची में शामिल थे  और कानूनी एजेंसियों ने उन्हें गिरफ्तार करने के लिए कई अभियान चलाए थे।
 
ढाका हमले के बाद देश में दो दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया है। इस्लामिक आतंकवादियों ने राजनयिक क्षेत्र में स्थित इस रेस्तरां में शुक्रवार रात हमला कर 18 विदेशियों की धारदार हथियारों से निर्मम हत्या कर दी और कई अन्य को बंधक बना लिया था। सुरक्षाबलों ने 12 घंटे तक चले बंधक संकट को समाप्त कर छह आतंकवादियों को मार गिराया तथा एक अन्य को गिरफ्तार कर लिया।
 
इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। पुलिस ने अभी इसकी पुष्टि नहीं है लेकिन बंदूकधारियों और विदेशी आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के बीच संभावित संबंधों का पता लगाया जा रहा है।
 
आईएस ने बांग्देश में अभी तक व्यक्तिगत हमले ही किए थे जिनमें उदारवादी ब्लॉगरों, लेखकों और अल्पसंख्यकों को ही निशाना बनाया जाता था। इतनी बड़ी संख्या में लोगों को निशाना बनाने का इस्लामिक आतंकवादियों का यह पहला हमला है।
 
स्थानीय प्रशासन का कहना है कि बांग्लादेशी आतंकवादियों और अंतरराष्ट्रीय जिहादी नेटवर्क के बीच कोई संपर्क नहीं मिला है। (वार्ता) 



और भी पढ़ें :