बुश पर फेंके जाने वाले जूते की माँग बढ़ी

लंदन (भाषा)| भाषा|
इतिहास बनाने वाला दुनिया का सबसे चर्चित चमड़े के जूते ने तुर्की में 100 लोगों को रोजगार दिलाया है।


जी हाँ, यहाँ उसी जूते की बात हो रही है, जिसे इराकी पत्रकार मुंतजर अल जैदी ने बगदाद में संवाददाता सम्मेलन के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू के ऊपर फेंका था। इस जूते ने जहाँ दुनिया के सबसे ताकतवर राष्ट्र प्रमुख को अपमानित किया, वहीं अपने मालिक को जेल में डलवा दिया।
बहरहाल इसे बनाने वाली कंपनी के लिए एक तरह से लॉटरी निकल आई है और दुनिया भर से इस मॉडल के जूते की माँग की जा रही है। इस घटना के बाद से इस्तांबुल की कंपनी बयदान शू कंपनी के मालिक रमाजान बयदान को दुनिया भर से इस मॉडल के जूते के ऑर्डर मिल रहे हैं।


समाचार-पत्र गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक दरअसल बयदान ने 271 मॉडल के तीन लाख जोड़े जूतों की आपूर्ति के लिए 100 लोगों को भर्ती किया है। इस मॉडल के जूते की माँग सालाना बिक्री से चार गुणा अधिक है। इस मॉडल के जूते की माँग में बढ़ोतरी को जैदी के काम के समर्थन के रूप में देखा जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस मॉडल के जूते के लिए अमेरिका, ब्रिटेन और पड़ोसी मुस्लिम देशों से ऑर्डर हैं।

रिपोर्ट के अनुसार एक लाख बीस हजार जोड़े जूतों का ऑर्डर से है, जबकि एक अमेरिकी कंपनी ने 18 हजार जूतों के ऑर्डर दिए हैं। इसके अलावा ब्रिटेन की एक कंपनी ने स्वयं को इस जूते के लिए यूरोपीय वितरक बनाए जाने की पेशकश की है। वर्ष 1999 से जूते का यह मॉडल बाजार में है। तुर्की में इसकी कीमत 28 पाउंड है।
इस मॉडल के जूते की सीरिया, मिस्र और ईरान में खासी माँग है। वहाँ की जूते बनाने वाली कंपनियों के संघ (शूमेकर फेडरेशन) ने जैदी और उसके परिवार को पूरी जिंदगी जूतों की आपूर्ति करने की पेशकश की है। बाजार के मूड को भुनाने के लिए बयदान जूते के इस मॉडल का नाम बुश शू या बाय-बाय बुश रखने पर विचार कर रहे हैं।

ब्रिटिश समाचार-पत्र ने उनके हवाले से कहा है कि हम पिछले कई साल से इस मॉडल के जूते बेच रहे हैं, लेकिन बुश को धन्यवाद। उनके नाम से जुड़ने के कारण इसकी माँग में खासी बढ़ोतरी हुई है। हमने टेलीविजन पर प्रचार के लिए एजेंसी की सेवा ली हैं।


सम्बंधित जानकारी


और भी पढ़ें :