इंसानियत की मिसाल : मुस्लिमों ने किया हिन्दू महिला का अंतिम संस्कार

Last Updated: सोमवार, 6 अप्रैल 2020 (14:44 IST)
इंदौर। कोरोना वायरस संक्रमण के भय के बीच ऐसी खबरें भी सामने आ रही हैं, जो यकीन दिलाती हैं कि आज भी इंसानियत जिंदा है। यहां मुस्लिमों मिलकर ने एक हिन्दू महिला का पूरी रीति के अनुसार किया।

ऐसी वाकए यह साबित करते हैं कि हिन्दुस्तान की धरती पर सभी धर्मों के लोग प्रेम और भाईचारे से रहते हैं। सिर्फ राजनीतिज्ञ अपने फायदे के लिए हिन्दू-मुस्लिम
के बीच लकीर खींचते हैं

साउथ तोड़ा के जूना गणेश मंदिर में रहने वाली एक बुजुर्ग महिला कई दिनों से बीमार थी। मोहल्ले के लोग महिला को दुर्गा मां कहकर पुकारते थे।
hindu muslim" width="561" />

आज सुबह कुछ युवकों को पता चला कि दुर्गा मां की मौत हो गई तो उनके दो लड़कों को खबर दी गई, जो कहीं और रहते थे।
मां की मौत की खबर सुनकर वे आए, लेकिन उनके पास अंतिम संस्कार के लिए रुपए नहीं थे। तभी मोहल्ले में रहने वाले अकील भाई, असलम भाई, मुद्दसर भाई, राशिद इब्राहिम मामू, इमरान सिराज ने महिला का अंतिम संस्कार किया। मुस्लिम युवकों ने महिला की अर्थी को कांधा भी दिया। महिला के शव को मुखाग्नि भी दी।



और भी पढ़ें :