दूसरों की जान बचाने में इंदौर के नागरिकों ने दिखाई विशेष रुचि

पुनः संशोधित रविवार, 16 मई 2021 (22:17 IST)
इंदौर। संभागायुक्त डॉक्टर पवन शर्मा की पहल पर इंदौर में प्रारंभ हुए प्लाज़्मा डोनेशन कैंप में प्रतिदिन दानदाता सामने आ रहे हैं। इंदौर में अपना प्लाज्मा डोनेट कर दूसरों की जान बचाने के लिए नागरिक विशेष रुचि दिखा रहे हैं। पिछले तीन दिनों में 21 लोगों ने अपना प्लाज्मा डोनेट किया है। दूसरी ओर, मंत्री सिलावट ने सांवेर विधानसभा क्षेत्र का सघन दौरा किया, वहीं के अध्ययन के लिए संभागायुक्त ने विशेषज्ञों की समिति का गठन किया।

इंदौर जिले में चलाए जा रहे अभियान के तहत गत 14 मई 9 लोगों ने, 15 मई को 6 और रविवार 16 मई को भी 6 दानदाताओं ने आकर अपना प्लाज़्मा डोनेट किया है। गत 14 मई को नवदीप शर्मा, पवन खंडेलवाल, विनोद नागदेव, बालकिशन यादव, नमीश जैन, संदीप कुमावत, मनोज माहतो, चिराग गुप्ता तथा सोनू परमार ने अपना प्लाज्मा दिया।
इसी प्रकार गत 15 मई को प्रशांत नाहर, हिमांशु शर्मा, अमन गुप्ता,
निमेश दलाल, राजीव खंडेलवाल तथा धर्मेंद्र पंवार ने अपना प्लाज्मा डोनेट किया। 16 मई को प्लाजमा डोनेट करने वालों में निधि बोहरा, संजय दीक्षित, आलोक खेमका, सौरभ, शिवम चौरसिया तथा अरविंद गेहलोद शामिल हैं।
ब्लैक फंगस के लिए समिति गठित : कोरोना के उपचार उपरांत म्यूकोरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) के प्रकरण काफी संख्या में संभाग में चिन्हित हो रहे हैं। संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने ब्लैक फंगस के प्रकरणों के अध्ययन के लिए विशेषज्ञों की समिति गठित की है। यह समिति विस्तृत अध्ययन के पश्चात अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

अंतरराज्यीय परिवहन सेवा स्थगित : राज्य शासन ने कोरोना वायरस के संक्रमण पर प्रभावी रोकथाम के लिए लोकहित में मध्यप्रदेश में उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और छत्तीसगढ़ राज्य से आने तथा जाने वाले बस परिवहन संचालन को पूर्व में 15 मई तक स्थगित किया था।
इस बढ़ाकर 23 मई, 2021 कर दिया गया है।

बैंक ऋण वसूली पर रोक : जिले में जनता कर्फ्यू से उत्पन्न परिस्थितियों के मद्देनजर बकाएदारों से 31 मई तक बैंकों की बकाया ऋण वूसली पर प्रतिबंध लगाया गया है। आवश्यक होने पर अनुमति प्राप्त कर ही ऋण वूसली की जा सकेगी। इस संबंध में अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी पवन जैन द्वारा दंड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा-144 के अंतर्गत जिले की संपूर्ण राजस्व-सीमा क्षेत्र के लिए सशर्त प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया गया है।
अब तक 1500 से ज्यादा मरी‍ज डिस्चार्ज : कोरोना मरीजों के उपचार के लिए इंदौर के राधा स्वामी सत्संग
में बनाए गए प्रदेश के सबसे बड़े मां अहिल्या कोविड केयर सेंटर से अब तक 1503 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। सेंटर में बेड की कुल संख्या 1200 है। वर्तमान में इस सेंटर में 435 मरीजों का उपचार चल रहा है, जबकि 86 मरीजों को अन्य अस्पतालों में भेजा गया।

सिलावट का सांवेर दौरा : इंदौर जिले के प्रभारी तथा जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सांवेर विधानसभा क्षेत्र का सघन भ्रमण किया। यहां उन्होंने कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया तथा वे उपचाररत मरीज़ों से मिले और उनका हौसला बढ़ाया। सासिलावट ने कोविड केयर सेंटर में मरीजों की समर्पण भाव से सेवा कर रहे डॉक्टर और नर्सों के कार्यों की सराहना की और उनका आभार माना। इसके बाद मंत्री सिलावट ग्राम बड़ोदिया पहुंचे। यहां उन्होंने ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक ली।



और भी पढ़ें :