नासिक कुंभ : नागा साधुओं के बारे में 12 जानकारी


- अनिरुद्ध जोशी 'शतायु' 
 
नागा साधुओं की लोकप्रियता है। संन्यासी संप्रदाय से जुड़े साधुओं का संसार और गृहस्थ जीवन से कोई लेना-देना नहीं होता। गृहस्थ जीवन जितना कठिन होता है उससे सौ गुना ज्यादा कठिन नागाओं का जीवन है। 
यहां प्रस्तुत है नागा से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी।
 
1. नागा अभिवादन मंत्र : ॐ नमो नारायण। 
 
2. नागा का ईश्वर : शिव के भक्त नागा साधु शिव के अलावा किसी को भी नहीं मानते।
 
* नागा वस्तुएं : त्रिशूल, डमरू, रुद्राक्ष, तलवार, शंख, कुंडल, कमंडल, कड़ा, चिमटा, कमरबंध या कोपीन, चिलम, धुनी के अलावा भभूत आदि।
 
3. नागा का कार्य : गुरु की सेवा, आश्रम का कार्य, प्रार्थना, तपस्या और योग क्रियाएं करना।
 
 



और भी पढ़ें :