महिलाओं को भी आतंकवाद का प्रशिक्षण

ND|
पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में महिलाओं को भी आतंकवाद की ट्रेनिंग दी जा रही है। 14 नवंबर को बीएसएफ ने राजौरी क्षेत्र में एलओसी के नजदीक स्थित दादली फारवर्ड पोस्ट पर आसिया मलिक नामक महिला को गिरफ्तार किया। आसिया ने पूछताछ के दौरान जो जानकारी दी वह इस प्रकार थी :

* पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 100 पाकिस्तानी महिलाओं को आतंकवादी गतिविधियों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

* कैम्प को आर्थिक सहायता पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई दे रही है।

* इन्हें भिंभार व कोटली स्थित दो कैम्पों में प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जिसमें हथियार चलाने के अलावा विस्फोटकों के बारे में जानकारी और जंगल में कैसे लड़ाई करना व विद्रोह करने के तरीकों के बारे में प्रशिक्षित किया जा रहा है।
* इन सभी को 10-12 के समूहों में भारत भेजा जा रहा है।

* आसिया का पति सज्जाद अहमद पाकिस्तान की 129वीं यूनिट में हवलदार है। उसका भतीजा मुज्जमिल लश्कर-ए-तोइबा का कमांडर है।

* आसिया को आतंकवादियों के लिए भारत की सीमा में घुसने का सुरक्षित तरीका और सीमा पर सुरक्षा बल कहाँ पर हैं इसकी जानकारी लाने के लिए भेजा गया था।
* उसने बताया कि कैम्प में पाकिस्तान के अलावा अन्य देशों से भी लोग आते हैं, जिनमें सऊदी अरब भी शामिल है।

* यह भी बताया कि पाकिस्तानी सेना के अधिकारी भी इन कैम्पों के निरीक्षण के लिए आते हैं। आसिया के अनुसार मेजर मूसा और पाकिस्तान सेना के अधिकारी तलत उनके कैम्प में आए थे।
(नईदुनिया)



और भी पढ़ें :