लाल किले से पीएम मोदी की चीन को चुनौती और कोरोना काल में आत्मनिर्भर भारत का संकल्प

Last Updated: शनिवार, 15 अगस्त 2020 (09:12 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। देशभर में 74वां स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी लाल किले से सातवीं बार राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं। कार्यक्रम से जुड़ी हर जानकारी...

09:03AM, 15th Aug
-मैं देख रहा हूं- एक नए आत्मविश्वास का उदय, एक नए आत्मनिर्भर भारत का संकल्प। 
-कोरोना बड़ी विपत्ति है, लेकिन इतनी बड़ी नहीं कि भारत की विकास यात्रा को रोक पाए।
-इस दशक में भारत नई नीति और नई रीति के साथ बढ़ेगी।
-अब साधारण से काम नहीं चलेगा। होती है, चलती है नीति छोड़नी पड़ेगी।
-हम हर क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ेंगे।
-हमारे पॉलिसी, प्रोसेस, प्रोडक्ट उत्तम से उत्तम हो, तभी श्रेष्ठ भारत और एक भारत की संकल्पना पूरी होगी।
-हमें संकल्प लेना होगा। यह संकल्प 130 करोड़ देशवासियों के लिए, यह संकल्प स्वतंत्रता के लिए संघर्ष करने वालों के लिए हो।
-हम आयात को कम से कम करने की दिशा में काम करेंगे।
-लोकल के लिए वोकल के लिए काम करेंगे, महिलाओं को, गरीबों को, गांवों को हम मजबूत करेंगे। 
इसी जज्बे के साथ भारत को आगे बढ़ना है।
-हम एक कदम दूर हैं आजादी की 75वीं वर्षगांठ से।
08:57AM, 15th Aug
-एक लाख एनसीसी कैडेट तैयार किए जाएंगे। इनमें एक तिहाई लड़कियों की संख्या होगी।
-बॉर्डर एरिया में सेना और कोस्टल एरिया में नौसेना इन्हें ट्रेनिंग देगी।
-बीते 5 साल में आवश्यकताओं की पूर्ति हुई, अब आकांक्षाओं की पूर्ति होगी।
08:52AM, 15th Aug
-हम अपने पड़ोसी देशों से रिश्ते बढ़ाने का काम कर रहे हैं। 
-भारत का प्रयास है कि पड़ोसियों के साथ सदियों पुराने आर्थिक, सांस्कृतिक और सामाजिक रिश्तों को और आगे बढ़ाएं।
-आज हमारे पड़ोसी वे भी जिनसे हमारे दिल मिलते हैं। पड़ोसी सिर्फ वे नहीं जिनसे भौगोलिक सीमाएं मिलती हैं।
-बीते कुछ समय में भारत ने एक्सटेंडेड नेवरहुड के सभी देशों के साथ संबंधों को और मजबूत किया है। 
-पश्चिम एशिया के देशों के साथ हर क्षेत्र में हमारे रिश्तों में कई गुना बढ़ोतरी हुई है।
-इनके साथ ऊर्जा क्षेत्रों में भागीदारी बहुत महत्वपूर्ण है।
-इन देशों में बड़ी संख्‍या में भारतीय काम कर रहे हैं।
-कोरोना काल में भारतवासियों के सहयोग के लिए मैं इन देशों का आभार प्रकट करना चाहता हूं।
08:49AM, 15th Aug
-देश को चुनौती देने के लिए सीमा पर दुष्प्रयास हुए हैं।
-देश की संप्रभुता पर जिस किसी ने आंख उठाई। उसका उसी की भाषा में जवाब दिया।
-भारत की संप्रभुता की रक्षा के लिए पूरा देश जोश से भरा हुआ है, सामर्थ्य के साथ आगे बढ़ रहा है।
-हमारे वीर जवान क्या कर सकते हैं, देश क्या सकता है यह लद्दाख में दुनिया ने देख लिया है।
-मातृभूमि पर न्योछावर उन सभी वीर जवानों को लाल किले की प्राचीर से आदरपूर्वक नमन करता हूं।
-आतंकवाद हो या विस्तारवाद, भारत आज डटकर मुकाबला कर रहा है।
-दुनिया का भारत पर विश्वास और मजबूत हुआ है।
-संयुक्त राष्ट्र में अस्थायी सदस्यता के लिए 192 में से 184 देशों का समर्थन बड़ी बात है।
-यह तभी संभव है जब भारत हर क्षेत्र में मजबूत हो।
08:43AM, 15th Aug
-देश के चुने हुए 100 शहरों में प्रदूषण कम करने के लिए हम जनभागीदारी के साथ आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए प्रदूषण कम करते हुए मिशन मोड में काम करने वाले हैं।
-भारत उन कम देशों में शामिल हैं, जहां जंगलों का विस्तार हो रहा है।
-प्रोजेक्ट डॉल्फिन पर काम किया जाएगा। नदियों और समुद्रों में इस बात का ध्यान रखा जाएगा।
08:42AM, 15th Aug
-लेह-लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को 370 से आजादी मिल गई है।
 इससे महिलाओं और गरीबों को विकास का लाभ मिल रहा है।
-जम्मू कश्मीर में स्थानीय जनप्रतिनिधि पूरी सक्रियता के साथ विकास यात्रा में भागीदारी कर रहे हैं।
-कश्मीर में डी लिमिटेशन का काम चल रहा है। इसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं।
-लेह-लद्दाख को केन्द्र शासित प्रदेश बनाकर वहां लोगों की वर्षों पुरानी आकांक्षा को हमने पूरा किया है। वहां सेंट्रल यूनिवर्सिटी बन रही है। बिजली पर भी काम चल रहा है।
-लद्दाख की कई विशेषताएं हैं- उन्हें संवारना है। 
-सिक्किम ने जिस तरह अपनी ऑर्गेनिक स्टेट की पहचान बनाई है। उसी तरह लद्दाख भी कार्बन न्यूट्रल इकाई की पहचान बना सकता है। इस दिशा में हम आगे बढ़ रहे हैं।
-पर्यावरण के संतुलन के साथ भी विकास को बढ़ाया जा सकेगा। 
-सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत पूरी दुनिया को प्रेरित कर रहा है।
-प्रदूषण को लेकर भारत सजग भी है और सक्रिय भी है।
08:33AM, 15th Aug
-भारत में 3-3 वैक्सीन की टेस्टिंग का काम चल रहा है। 
-जैसे ही वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलेगी, तेजी से प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा।
-कोरोना वैक्सीन के लिए हमारे वैज्ञानिक पूरी मेहनत से जुटे हुए हैं।
-यह वैक्सीन तेजी से हर भारतीय तक कैसे पहुंचे इसकी रूपरेखा और खाका तैयार है।
08:33AM, 15th Aug
-आज से नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन का आरंभ किया जा रहा है।
-भारत के हेल्थ सेक्टर में यह नई क्रांति लेकर आएगा। 
-प्रत्येक भारतीय को हेल्थ आईडी दी जाएगी, जो कि हेल्थ आईडी की तरह काम करेगी। इसमें व्यक्ति की हेल्थ संबंधी जानकारी दर्ज होगी।
-उत्तम स्वास्थ्य के लिए कोई भी नागरिक अपने लिए फैसला ले पाएगा।
-कोरोना काल में हेल्थ सेक्टर में काम करने की जरूरत है। 
-आज हमारे देश में 1400 लैब का नेटवर्क है। आज 7 लाख से ज्यादा टेस्ट कर पा रहे हैं। शुरुआत में सिर्फ 300 टेस्ट ही कर रहे हैं।
-एमबीबीएस छात्रों के लिए सीटें बढ़ाई गई हैं।
-गांवों में वेलनेस सेंटरों ने काफी मदद की है।
08:30AM, 15th Aug
-भारत में महिला शक्ति को जब-जब अवसर मिले देश को ताकत मिली है।
-भारत में आज महिलाएं अंडर ग्राउंड कोयला खदानों में काम कर रही हैं तो बेटियां फाइटर प्लेन भी उड़ा रही हैं। 
-महिलाएं को तीन तलाक से मुक्ति मिली है, जो कि इससे पीड़ित थी।
-40 करोड़ जन-धन खातों में से 22 करोड़ भारत की बहनों के हैं।
-मुद्रा योजना में भारत की बहनों को काफी लाभ मिला है।
-जन औषधि केन्द्रों में एक रुपए में सैनेटरी पहुंचाने का काम किया है।
-इसके चलते 5 करोड़ सैनेटरी पैड महिलाओं तक पहुंच चुके हैं।
-साइबर स्पेस के खतरों को लेकर भी भारत सचेत है। इसको लेकर नई व्यवस्थाएं भी विकसित की जा रही है।
-आने वाले समय में सब इकाइयों को जोड़कर साइबर सिक्योरिटी की दिशा में काम करेंगे।
08:28AM, 15th Aug
-आफत में भी कुछ अच्छी चीजें उभरकर आ जाती हैं।
-किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि ऑनलाइस क्लासेस का कल्चर गांवों तक पहुंच गया है।
-भारत में 3 करोड़ का ऑनलाइन ट्रांजिक्शन हुआ है।
-आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में देश की शिक्षा का बहुत बड़ा महत्व है। इसी सोच के कारण देश को तीन दशक बाद नई शिक्षा नीति देने में सफल हुए हैं।
-नई शिक्षा नीति लोगों को जड़ों से जोड़ने का काम करेगी, लेकिन उसे ग्लोबल नागरिक भी बनाएगी।
-देश की प्रगति के लिए इनोवेशन और रिसर्च की बहुत जरूरत है।
-इससे दुनिया में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।
-5 दर्जन पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर था, लेकिन गत 5 वर्षों में 1 लाख से ज्यादा पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर पहुंच गया है।
-गांव की डिजिटल इंडिया में भागीदारी जरूरत है और वह बढ़ी है। सभी 6 लाख से ज्यादा गांवों ऑप्टिकल नेटवर्क पहुंचाया है।
-जरूरत के साथ हमारी प्रायोरिटी भी बदली है। 
-1000 दिन के अंदर-अंदर देश के 6 लाख से अधिक गांवों में ऑप्टिकल फाइबर का काम पूरा कर लिया जाएगा।
-आने वाले समय में साइबर स्पेस पर निर्भरता बढ़ने वाली है।
08:20AM, 15th Aug
-हमारा कृषि क्षेत्र आधुनिक बने, यह आज के दौर की जरूरत है। किसानों का खर्च कैसे घटे इसका भी ध्यान रखा जा रहा है।
-इसके लिए अच्छे इन्फ्रास्ट्रक्चर की जरूरत है। इससे किसान की विश्व व्यापार में पहुंच बढ़ेगी, किसानों को उनके उत्पादों का अच्छा दाम भी मिलेगा। 
-लोगों को शुद्ध जल मिले। इसके लिए जल जीवन मिशन की शुरुआत की गई। शुद्ध जल स्वास्थ्य से भी जुड़ा हुआ है।
-कौन सोच सकता था कि देश का स्पेस सेक्टर युवाओं के लिए खुलेगा। 
-आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए संतुलित विकास बहुत आवश्यक है।
-शहर में श्रमिकों के लिए आवास की बहुत बड़ी योजना तैयार की है।
-भारत के विकास की यात्रा में गरीब भी शामिल हैं। 
इंफ्रास्ट्रक्चर पर देश 100 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। 
-अलग-अलग सेक्टर्स के लगभग 7 हजार प्रोजेक्ट्स को चिन्हित भी किया जा चुका है। ये एक तरह से इंफ्रास्ट्रक्चर में एक नई क्रांति की तरह होगा।
 
08:12AM, 15th Aug
-80 करोड़ देशवासियों को मुफ्त अनाज पहुंचाया गया।
-बीते छह वर्षों में देश के नागरिकों का जीवन बेहतर करने के लिए अनेक अभियानों की शुरुआत की गई है।
-गांव के संसाधनों पर भरोसा करते हुए हम लोकल फॉर वोकल की दिशा में काम कर रहे हैं। 
-शहर में हमारे जो श्रमिक हैं, उनके लिए भी विभिन्न योजनाएं चल रही हैं।
-हर घर में बिजली कनेक्शन, उज्जवला योजना, बीमा सुरक्षा, आयुष्मान भारत योजना, राशन दुकानों को टेक्नोलॉजी से जोड़ने की बात हो इन सबसे बहुत मदद मिली है।
-कोरोना काल में भी इन योजनाओं से देश के लोगों को मदद मिली है।
-किसी भी देश की आजादी का स्रोत उसका संकल्प होता है, उन्नति का स्रोत उसकी श्रम शक्ति होती है।
08:07AM, 15th Aug
-मल्टी मॉडल कनेक्टिवी स्ट्रक्चर की दिशा में काम शुरू हुआ है। 
-इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 110 लाख करोड़ से ज्यादा खर्च किए जाएंगे। अलग अलग सेक्टर में प्रोजेक्ट्‍स की पहचान की जाएगी।
-इससे देश के इन्फ्रास्ट्रक्चर को नई दिशा और गति मिलेगी।
-वाजपेयी ने स्वर्णिम चतुर्भुज योजना की शुरुआत की थी। आज पूरा देश उस योजना की ओर बड़े गर्व से देखना है। 
हमें अटल जी के काम को आगे ले जाना है, नई दिशा की ओर ले जाना है। 
-कौन सोच सकता था कि जन धन खातों में करोड़ों रुपए जमा होंगे।
08:03AM, 15th Aug
-मेक इंडिया के साथ मेक फॉर वर्ल्ड की नीति के साथ हमें आगे बढ़ना है। 
-130 करोड़ देशवासियों के सामर्थ्य के लिए गर्व कीजिए।
-जीएसटी से वन नेशन वन टैक्स, वन नेशन वन राशन कार्ड हो, पावर सेक्टर में वन नेशन वन ग्रिड आदि देश की हकीकत बन चुके हैं।
-भारत हो रहे परिवर्तनों को दुनिया बारीकी से देख रही है।
-बीते वर्ष एफडीआई ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। बीते वर्ष एफडीआई में 18 फीसदी वृद्धि हुई है। 
-कोरोना काल के बावजूद बड़ी-बड़ी कंपनियां भारत की ओर रुख कर रही है।
08:00AM, 15th Aug
-कोरोना काल में हमने देखा- हमारे देश के युवाओं में उद्योग जगत ने बीड़ा उठाया। पीपीई किट नहीं बनते थे बने, वेंटिलेटर नहीं बनते थे बनने लगते थे।
-विश्व की भलाई में काम करने की भी भारत की जरूरत है।
-आजाद भारत की मानसिकता होनी चाहिए, लोकल फॉर वोकल।
-हमें अपनी स्थानीय चीजों को बढ़ावा दें। हम इसे जीवन का मंत्र बना लें।
-हमें कौशल को बढ़ाना है, क्रिएटिवी को बढ़ाना है। स्किल डेवलपमेंट की दिशा में आगे बढ़ना है।
-जब मैं आत्मनिर्भरता की बात करता हूं तो अनेक आशंकाएं प्रकट की जाती हैं। 
-आत्मनिर्भर भारत के लिए लाखों चु‍नौतियां हैं, यह मैं मानता हूं। 
-देश की लाखों चुनौतियां हैं तो करोड़ों समाधान देने वाली शक्तियां भी हैं।
07:56AM, 15th Aug
-हमें आत्मनिर्भर बनना होगा। आत्मनिर्भर भारत का सपना संकल्प में परिवर्तित हो। किसानों के परिश्रम के चलते आज कृषि के क्षेत्र में भारत आत्मनिर्भर बना है।
-आज हम खुद के लिए अनाज उगाते हैं, दूसरे देशों को भी देते हैं। दुनिया में कब तक हम कच्चा माल भेजेंगे? हम भारत में ही सामान बनाएंगे।
-जरूरत यह है कि हम भारत में बने सामान की कोशिश कैसे हो, यह कोशिश करनी चाहिए। जब हम मजबूत होंगे तो दूसरे देशों को भी मदद कर सकते हैं।
07:55AM, 15th Aug
-`जो परिवार के लिए आवश्यक है, वह देश के लिए भी आवश्यक है। परिवारों में लोग 22-25 साल की उम्र परिजन आत्मनिर्भरता की बात करते हैं तो हमारे भारत की आजादी अगले साल 75 साल की होने को जा रही है। 
-मुझे विश्वास है भारत इस सपने को चरितार्थ करके ही रहेगा। मुझे देश की प्रतिभाओं पर गर्व है। मुझे युवाओं, महिलाओं पर विश्वास है। 
-भारत जो ठान लेता है, करके रहता है। दुनिया को भारत से उत्सुकता भी है और अपेक्षा भी है।
07:54AM, 15th Aug
-कोरोना काल में भारत ने आत्मनिर्भर भारत बनने का संकल्प लिया। आत्मनिर्भर भारत एक प्रकार का शब्द नहीं, 130 करोड़ भारत के लिए मंत्र बन गया है।
-आजादी की लड़ाई में भारत ने एकजुटता की ताकत, संकल्प, समर्पण की ऊर्जा की से देश आगे बढ़ता चला गया। 
भारत की आजादी की लड़ाई ने दुनिया में आजादी का रास्ता दिखाया। 
-भारत का आजादी आंदोलन दुनिया का प्रकाशस्तंभ बन गया। विस्तारवाद में लगे लोगों ने दुनिया को दो दो विश्वयुद्ध में झोंक दिया। इसके बावजूद भारत ने अपनी आजादी की ललक को नहीं छोड़ा।
07:52AM, 15th Aug
-पूज्य बापू ने आजादी के आंदोलन ने नई ऊर्जा दी। यही कारण है कि हम आजादी का पर्व मना पा रहे हैं। 
-भारत की परंपराओं, संस्कृत तोड़ने और उखाड़ने के काम भी हुए। हमारे पूर्वजों ने जिस प्रकार से आजादी दिलाई है, खुद को न्योछावर कर दिया है।
-आजादी की इच्छा के लिए हर किसी ने त्याग किया, प्रयास किया, जवानी जेलों में खपा दी। ऐसे वीरों को मैं नमन करता हूं।
07:47AM, 15th Aug
-पीएम ने कहा कि अगले वर्ष हम अपनी आजादी के 75वें वर्ष में प्रवेश कर जाएंगे. एक बहुत बड़ा पर्व हमारे सामने है।
-नरेंद्र मोदी ने प्राकृतिक आपदाओं का सामना कर रहे देश के कुछ हिस्सों के प्रति संवेदना जाहिर की और कहा कि जरूरत के इस समय में वह नागरिकों के साथ हैं।
-पीएम नरेंद्र मोदी ने उन सभी भारतीयों के योगदान के लिए श्रद्धांजलि अर्पित किया  जिन्होंने हमारी स्वतंत्रता  को जीता है, जो हमारी स्वतंत्रता की रक्षा करते हैं और हमें सुरक्षित रखते हैं।
07:26AM, 15th Aug
-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धाजंलि अर्पित की।
-अपने सरकारी आवास से निकलने के बाद वह सीधे राजघाट पहुंचे और बापू की समाधि पर श्रद्धासुमन अर्पित किए।
-पीएम मोदी ने ट्वीट कर देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी। 
07:20AM, 15th Aug
-प्रधानमंत्री को सलामी देने वाले गॉर्ड ऑफ ऑनर दस्ते में थल सेना, नौसेना, वायुसेना और दिल्ली पुलिस से एक-एक अधिकारी और 24 जवान शामिल होंगे।
-गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण करने के बाद प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर की ओर बढ़ेंगे, जहां उनका स्वागत रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, थल सेनाध्यक्ष जनरल एमएम नरवणे, नौसेना अध्‍यक्ष एडमिरल करमबीर सिंह और वायु सेना अध्‍यक्ष एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया करेंगे।
-दिल्ली क्षेत्र के जीओसी प्रधानमंत्री को ध्वज फहराने के लिए लाल किले की प्राचीर पर बने मंच पर ले जाएंगे. राष्ट्रीय ध्वज फहराए जाने के बाद प्रधानमंत्री राष्ट्र को संबोधित करेंगे।
07:18AM, 15th Aug
-इस साल लाल किले पर 74वें स्वतंत्रता दिवस समारोहों के लिए बहुस्तरीय सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं और सामाजिक दूरी के नियमों का अनिवार्य तरीके से पालन किया जाएगा।
-एनएसजी, एसपीजी और आईटीबीपी जैसी अन्य एजेंसियों के साथ आवश्यक समन्वय किया गया है।



और भी पढ़ें :