0

Deepawali : घर को बनाना है रंगीन और खूबसूरत तो अपनाएं वास्तु-फेंगशुई के ये 5 टिप्स

सोमवार,अक्टूबर 26, 2020
diwali colours
0
1
दीपावली के पहले घरों की रंगाई-पुताई करवा रहे हैं, तो यह टिप्स आपको जरूर जानना चाहिए। घर की साज-सज्जा एवं रंग-रोगन के लिए दिशा के अनुसार चुनें इन 5 समृद्धदिायक रंगों को, और पाएं वर्ष भर खुशहाली व सुख-समृद्धि। जानें कैसे करें रंगों का चुनाव...
1
2
क्या आप जानते है कि हर रंग का प्रभाव आपके मन और बुद्धि पर अलग-अलग तरह से पड़ता है। फेंगशुई के अनुसार हरे रंग को बुद्धि का प्रतिक माना गया है और इसका सेहत पर भी अच्छा प्रभाव पड़ता है। आइए, जानें कि हरे रंग का आपके स्वास्थ्य से क्या संबंध है?
2
3
क्या आप अपने नए घर को पेंट करवाने का सोच रहे हैं? या अपने पुराने आशियाने को ही नई रंगत देकर नया लुक देना चाहते हैं? यदि हां, तो आपकी घर की दीवारों को पेंट करवाने से पहले ये जरूर जान लीजिए कि किन रंगों से महकेगा आपका आशियाना...
3
4
पारिवारिक रिश्ते सही चलते रहें, उनमें किसी भी प्रकार की खटास न रहे, उसके इस दिशा का संतुलन में रहना अत्यंत आवश्यक होता है। इस दिशा में संतुलन बनाए रखने के लिए जिससे कि
4
4
5
यदि आप भी अपने घर में विघ्नहर्ता भगवान गणेश की स्थापना करने जा रहे हैं, तो इस लेख में कुछ टिप्स हम आपको बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप बप्पा के दरबार को बहुत ही खूबसूरती के साथ सजा सकते हैं। आइए जानते हैं.........
5
6
एक खूबसूरत बालकनी की चाहत किसकी नहीं होती है, जहां पर कुछ समय सूकून से बैठा जा सके। गर्मियों के मौसम में ठंडी हवा के मजे और सर्दियों की धूप सेंकने के लिए घर में एक अच्छी-सी बालकनी से ज्यादा बेहतरीन जगह तो कोई और हो ही नहीं सकती। लेकिन इसका मजा तब और ...
6
7
हम अपने कुछ खास मित्रों, परिवारजनों के साथ कुछ क्षण आनंद से गुजारना चाहते हैं, उस जगह को हम घर का मुख्य कक्ष, बैठक या ड्राइंग रूम कहते हैं।
7
8
फेंगशुई के मुताबिक पीला रंग आपको खुशी, ऊर्जा और सेहतमंद रहने का एहसास देता है। यह आत्मिक अर्थात अध्यात्म से जोड़ने वाला रंग है। अगर आप इस रंग का इस्तेमाल करते हैं, तो यह आपके घर को आकर्षक बनाता है। साथ ही यह कम्फर्ट और रिलैक्स भी महसूस कराता है।
8
8
9
प्राचीनकाल में राजा-महाराजाओं द्वारा अपने महल, वस्त्रों, विभिन्न कक्षों, मुख्य द्वार आदि पर अलग-अलग अवसरों के अनुरूप इत्र एवं सुगंधित तेलों के प्रयोग का वर्णन मिलता है। इसमें कोई संदेह नहीं कि किसी खुशबू विशेष का प्रयोग कर आप अपने आसपास के वातावरण ...
9
10
घर में या घर के बाहर कई तरह के वास्तु दोष हो सकते हैं। वास्तु दोष से कई तरह के रोग या शोक उत्पन्न होते हैं। अत: यदि आपका घर कार्नर का है, तीराहे, चौराहे पर है, दक्षिण दिशा का घर है या घर के अंदर किसी भी प्रकार से वास्तु दोष है तो आप उक्त 10 उपाय ...
10
11
घर में कौनसी तस्वीरें किस कक्ष में लगाएं और कौनसी नहीं इसका उल्लेख वास्तुशास्त्र में मिलता है। यदि आपका अपनी पत्नी या पति से कोई मनमुटाव चल रहा है तो यहां प्रस्तुत है शयनकक्ष में लगाने वाली 5 तस्वीरों की जानकारी।
11
12
घर की साज-सज्जा का एक अहम हिस्सा कमरों में लगाई गईं तस्वीरें भी होती हैं। कुछ तस्वीरों के चित्र व्यक्ति के स्वभाव व व्यवहार पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं, तो कुछ के चित्र व्यक्ति के स्वभाव व व्यवहार पर नकारात्मक।
12
13
माना कि आप सुरक्षित गाड़ी चला रहे हैं, गति की सीमा और ट्रैफिक के नियमों का पालन भी आप कर रहे हैं लेकिन फिर भी कुछ है जो आपको दुर्घटनाओं की ओर ले जा रहा है।
13
14
अगर बात की जाए दीपों के पर्व दिवाली की, तो रंगोली के बिना इस त्योहार की कल्पना भी नहीं की जा सकती। आखिर यही तो है हमारी संस्कृति का वह प्रतीक जो जीवन के रंगों को दर्शाकर मन को भी खुशहाली से भर देता है।
14
15
अगर आपके घर में किचन कम स्पेस में बना हुआ है जिसमें सामान जबरदस्ती भरा हुआ सा लगता है। तो जरूरत है ये जानने की कैसे छोटे किचन को व्यवस्थित जमाकर उसे हल्का और बड़ा दिखाया जा सकता है। आइए जानते हैं छोटे किचन को बड़ा दिखने के कुछ खास टिप्स -
15
16
इस दिपावली मां लक्ष्मी के स्वागत के लिए घर के आंगन में बनाए फूलों की आकर्षक रंगोली। फूलों की रंगोली बेहद आकर्षक दिखने के साथ ही घर-आंगन में खुशबू भी घोल देती है। आइए, जानें इसे बनाने की आसान सी विधि -
16
17
दिवाली की साफ-सफाई में घर सजाने के अलावा घर में लगी फर्श, जोकि खासतौर से अगर मार्बल (marble) की हो तो उसे चमकाना भी बहुत जरूरी है। तभी आपका घर चमकता हुआ लगेगा। मार्बल की फर्श दिखने में जितनी सुंदर लगती है, गंदी भी उतनी ही जल्दी हो जाती है। ऐसे में ...
17
18
हमारे आसपास मौजूद ऊर्जा हमारी कार्यक्षमता पर सीधा असर डालती है। अगर हमारे आसपास सकारात्मक ऊर्जा मौजूद है तो फिर कठिन से कठिन कार्य में सफलता मिलना दूर नहीं।
18
19
दीपावली जैसे शुभ अवसर पर तो घर-आंगन एवं प्रवेश द्वारों के साथ-साथ लक्ष्मी-पूजन स्थल पर भी रंगोली सुसज्जित करने का अलग ही आनंद है।
19