हाजीपुर में बनेगा भव्य अंकोरवाट मंदिर

ND|
ND

से पांच किलोमीटर दूर हाजीपुर-बिदुपुर रोड पर स्थित में 15 एकड़ के परिसर में राम और सीता का भव्य मंदिर बनने की शुरुआत हो गई है। जो कि दस एकड़ के क्षेत्रफल में बनेगा।

बिहार के वैशाली जिले में गंगा नदी के तीरे कंबोडिया स्थित विश्व धरोहर घोषित अंकोरवाट मंदिर की यह हू-ब-हू होगी। हालांकि इसे और आलीशान और कद में अधिक ऊंचा बनाया जाएगा।
100 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस मंदिर का निर्माण कार्य दस साल में पूरा होगा। पटना स्थित महावीर मंदिर ट्रस्ट चंदे में मिली रकम से इस भव्य मंदिर को बनवा रहा है। यह ट्रस्ट बिहार में कई अस्पताल और मंदिर बनवा चुका है।

ट्रस्ट के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि यह वही प्राचीन स्थल है जहां वैशाली राज्य के राजा सुमति ने भगवान राम, लक्ष्मण और विश्वामित्र का स्वागत किया था। उन्होंने दावा किया कि गंगा नदी किनारे बन रहे इस मंदिर का मुख्य शिखर भारत समेत दुनिया के किसी भी मंदिर से ऊंचा होगा।
उल्लेखनीय है कि विश्व धरोहर अंकोरवाट मंदिर कंबोडिया में है। भगवान विष्णु के इस मंदिर को 12वीं सदी में कंबोडिया के राजा सूर्यवर्मन (1141-1152 ईस्वीं) के बीच बनवाया था।

उन्होंने बताया कि हूबहू अंकोरवाट जैसा बनने वाला यह मंदिर 222 फीट ऊंचा होगा। मंदिर पांच मंजिला होगा और इसके कुल पांच शिखर होंगे। मुख्य मंदिर राम और सीता का होगा। इसके अलावा अन्य हिन्दू देवी-देवताओं जैसे राधा-कृष्ण, विष्णु, सूर्य, गणेश, शिव-पार्वती आदि के भी मंदिर होंगे।



और भी पढ़ें :