ओमिक्रॉन वैरिएंट है साइलेंट किलर, जानिए चेतावनियां

पुनः संशोधित गुरुवार, 24 फ़रवरी 2022 (12:44 IST)
हमें फॉलो करें


कोविड- 19 के केस अब कम हो रहे हैं। लेकिन कोविड के नए वैरिएंट साइलेंट किलर की तरह वार कर रहे हैं। जिससे मरीज लंबे वक्त तक

अस्‍वस्‍थ रहता है। साथ ही कई सारी बीमारियों में उसे घेरने लगी है। जैसे, बीपी, हार्ट संबंधी बीमारियां, शुगर आदि। शुरू से किसी
का सगा नहीं रहा है मंत्री, क्रिकेटर, पुलिसकर्मी, शिक्षक, बच्‍चे, एक्‍टर-एक्‍ट्रेस कोविड की चपेट में आए है। वहीं देश के मुख्य न्यायाधीश भी दो बारकोविड की चपेट आ गए। की चपेट में आने के बाद उन्‍होंने बहुत बड़ा बयान दिया है।


देश के मुख्य न्यायाधीश एन वी रमण ने कहा कि वैरिएंट एक साइलेंट किलर है। इससे उभरने में काफी समय लगता है। यह टिप्‍प्‍णी
सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष और वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता विकास सिंह द्वारा शीर्ष अदालत से पूर्ण शारीरिक सुनवाई पर लौटने का आग्रह
करने के बाद आई। सीजेआई ने कहा कि पहली लहर में मैं चार दिन में ठीक हुआ था। लेकिन तीसरी लहर में लंबा समय लग रहा है। यह एक

साइलेंट किलर है। इस लहर में 25 दिन हो गए हैं और मैं अभी भी पूरी तरह से ठीक नहीं हुआ हूं।


गौरतलब है कि ओमिक्रॉन से अधिक सब वैरिएंट BA.2 अधिक खतरनाक बताया जा रहा है। हालांकि विशेषज्ञों के अनुसार वह तेजी से म्यूटेड
जरूर हो रहा है लेकिन उन्हें कोविड की दोनों डोज लग चुकी है वे ठीक भी हो रहे हैं। WHO के मुताबिक कोविड एक एंडेमिक बनकर रह
जाएगा। जिसके साथ हमें जीना सीखना होगा। विशेषज्ञों के अनुसार अभी नए वैरिएंट्स और आ सकते हैं। लेकिन 2022 के अंत तक किसीप्रकार का वैरिएंट नहीं आता है तो यह खत्म भी हो सकता है।



और भी पढ़ें :