CoronaVirus काल में कैसे करें safe travels?

पूरी दुनिया में को लेकर एक डर व्याप्त है। लोग अपने घर से बाहर निकलने से पहले सोच रहे हैं कि वे सफर कैसे करें, क्योंकि सफर में आप किन लोगों के संपर्क में आ रहे हैं इस बात की जानकारी तो आपको भी नहीं है। अधिकतर लोगों के जेहन में यह सवाल जरूर आ रहा है कि मेट्रो, टैक्सी, प्लेन, ट्रेन या बस कौन-सा सार्वजनिक परिवहन है, जो सबसे सेफ है?
के बारे में शोधों में स्पष्ट है कि यह संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने से फैलता है, वहीं जब आप सार्वजनिक साधनों से सफर करते हैं तो यह खतरा और बढ़ जाता है, क्योंकि आप सार्वजनिक साधन में उचित दूरी नहीं रख पाते, साथ ही आपको दूसरे व्यक्ति जो सफर कर रहे हैं उनके बारे में भी पूरी जानकारी नहीं होती है। लेकिन कोरोना के कारण जिंदगी की रफ्तार जो थम-सी गई है, उसे पटरी पर भी लाना है। इसलिए सावधानियों के साथ आगे कदम बढ़ाने की जरूरत है।
तो आइए जानते हैं कुछ महत्वपूर्ण बातें, जो आपको कोरोना काल में सफर करने के दौरान ध्यान में रखनी चाहिए।

सफर के दौरान ऐसी जगहों में ट्रेन के हैंडल, सीटों, टैक्सी के दरवाजे आदि को छूने से बचें, क्योंकि यहां से संक्रमण होने का खतरा बना रहता है।

अगर आप यात्रा कर रहे हैं तो इस बात का ख्याल रखें कि जब आप सार्वजनिक वाहन में सफर करें तब उसमें भीड़ कम हो। आप चाहे तो समय से पहले अपने घर से निकल सकते हैं ताकि आप भीड़ के सपर्क में न आ पाएं।
अपने साथ सैनिटाइजर जरूर रखें व समय-समय पर इसका इस्तेमाल करते रहें।

घर से निकलने से पहले मास्क का इस्तेमाल कर लें। उसके बाद इसे हटाने के बारे में न सोचें व पूरे समय घर से बाहर रहने पर इसका इस्तेमाल करें।

यदि आप उस इलाके से आते हैं, जहां संक्रमित व्यक्ति अधिक हैं तो इस जगह के सार्वजिनक साधन का इस्तेमाल न करें। यह नुकसानदायक हो सकता है।

ट्रेवल करते समय आप अपने चेहरे को बार-बार न छुएं, क्योंकि ऐसे में संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।
अगर आपके पास विकल्प हो तो आप ऐसी सीट चुनें, जो खिड़की के पास हो। ऐसे में आपको संक्रमण होने का खतरा भी कम होता है। यह कई शोधों में भी पाया गया है।

जो लोग खांस या छींक रहे हैं, उनसे दूरी बनाकर रखें।

सफर के बाद सबसे पहले अपने हाथों को सैनिटाइज करें।



और भी पढ़ें :