सर्दी में धूप में बैठने से विटामिन डी के अलावा मिलेंगे ये 5 अचूक फायदे

Last Updated: बुधवार, 24 नवंबर 2021 (11:05 IST)
ठंड का मौसम बहुत सुहावना होता है। सुबह की गरमा-गरम चाय और गुनगुनी धूप में बैठकर चुस्की लेना, ऐसा प्रतीत होता है जैसे सुबह सफल हुई। लेकिन यह तो शौकिया तौर पर करते हैं कभी आपने सुबह की धूप लेने के फायदे के बारे में विचार किया है। विटामिन डी का तो यह सबसे बड़ा स्त्रोत हैं लेकिन विटामिन डी के अलावा भी सुबह की धूप लेने के कई सारे फायदे हैं। जो आपको गंभीर बीमारियों से बचाने में मदद करता है। और कुछ बीमारी तो ऐसी भी है जिसका असर दवा से तो होगा लेकिन धूप लेने से आपको प्राकृतिक लाभ मिलेगा। तो आइए जानते हैं ठंड में धूप लेने के फायदे के -



1.मेलाटोनिन केमिकल बढ़ता है - ठंड के मौसम में धूप कम मिलती है जिससे शरीर में मेलाटोनिन केमिकल कम हो जाता है। मेलाटोनिन केमिकल कम होने से तनाव बढ़ता है, अनिद्रा की समस्या होने लगती है, सिर दर्द होना, डिप्रेशन की स्थिति में चले जाना, ब्लड प्रेशर बढ़ना। यह बीमारियां जन्म लेने लगती है। इसलिए ठंड के साथ ही अन्य मौसम में भी धूप लेना जरूरी है।

2. पाचन तंत्र को मजबूत करें - दरअसल, धूप लेने से गैस्ट्रिटिस अधिक सक्रिय हो जाते हैं जिससे पाचन क्रिया मजबूत होती है। सर्दी सहित अन्य मौसम में रोज सुबह की धूप लेने से पाचन क्रिया मजबूत होती है।

3.इम्यूनिटी मजबूत होती है - जी हां, रोज सुबह धूप लेने से आपके शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स पर्याप्त मात्रा में बनने लगती है। जिससे बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। वहीं धूप मंे बैठने से इम्यूनिटी पॉवर बढ़ती है क्योंकि वह हमें कई सारे इंफेक्शन से बचाने में मदद करता है। कोरोना काल में लोग को धूप लेने की सलाह दी गई। ताकि इम्यूनिटी मजबूत हो सके और वैक्सीन के साथ ही वायरस के खिलाफ लड़ सकें।

4.कोलेस्ट्रॉल कम करें - धूप लेने से शरीर का बेड कोलेस्ट्रॉल कम होता है। साथ ही इससे वजन कम करने में मदद मिलती है। अगर आप सुबह की धूप ले रहे हैं तो उस दौरान वॉक करें। वॉक करने के साथ ही आपका दिल भी स्वस्थ रहेगा। इस तरह एक साथ 3 काम कम समय में आराम से कर सकेंगे।


5.गंभीर
बीमारी में मददगार -
धूप में बैठने से पीलिया जैसी गंभीर बीमारी में राहत मिलती है। पीलिया का असर कम होता है। इसलिए धूप में बैठने की सलाह दी जाती है।

तो आप जान गए होंगे सर्दी में धूप में बैठने के फायदे और किस तरह से बीमारियों में राहत मिलती है।



और भी पढ़ें :