Winter Care Tips : सर्दी में ये 8 गलतियां आपको कर देती हैं बीमार

Last Updated: शनिवार, 27 नवंबर 2021 (11:56 IST)
सर्दी के मौसम में इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने पर बहुत जल्दी बीमार पड़ने लगते हैं। सर्दी-खांसी होना, इंफेक्शन, फ्लू का खतरा बढ़ जाता है। गरम कपड़े पहनना, सर्दियों में अधिक चाय या कॉफी पीना बॉडी में गरमाहट तो पैदा करते हैं लेकिन आपको कमजोर बना सकते हैं आइए जानते हैं ठंड में

ये 8 गलतियां आपको नुकसान पहुंचा सकती है-

1.कैफिन का अधिक सेवन - ठंड जरा सी भी सहन नहीं होती है। हम इतने आदि हो जाते हैं कि हर थोड़ी देर में या 1 दिन में करीब 4 कप चाय या कॉफी पी लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं बॉडी को गर्माहट तो दे रहे हैं लेकिन यह आपकी नींद उड़ा सकता है। जी हां, कैफिन के अधिक सेवन से आपके रात की नींद उड़ सकती है। और नींद नहीं आने पर तनाव, सिर दर्द होना, आलस बना रहना जैसी छोटी बीमारियां घेर सकती है।

2.गर्म पानी - ठंड में गर्म पानी से नहाने से ठंड कम लगती है। लेकिन कितनी भी ठंड हो वैज्ञानिक गुनगुने पानी से नहाने की सलाह देते हैं। दरअसल, अधिक गरम पानी से नहाने से केराटिन नामक सेल्स खत्म हो जाते हैं, जो बालो की तरह बॉडी के लिए भी जरूरी होते हैं। इसका असर स्किन पर बुरी तरह से पड़ता है। जिससे त्वचा पर खुजली होना, ड्रायनेस, रेषैज होना जैसी समस्या होने लगती है। इसलिए गरम पानी से ना ही बालों को धोना चाहिए और ना ही बहुत देर तक नहाना चाहिए।

3. गर्म कपड़े - कई लोग खुद को सिर से पांव तक इस तरह ढक लेते हैं कि सिर्फ दो आंखे और कलाई तक हाथ नजर आते हैं। लेकिन अधिक गरम कपड़े पहनने से आपकी बॉडी कमजोर हो जाती है। हमारा इम्यून सिस्टम व्हाइट सेल्स प्रोड्यूस करता है जिससे शरीर में बीमारियों का खतरा कम होता है। इंफेक्शन और बीमारियों से बचाव होता है। इसलिए बहुत ज्यादा गर्म कपड़े नहीं पहनना चाहिए।

4. भूख को मैनेज करें - जी हां, ठंड में भूख अधिक लगती है। लेकिन खाना खाने के बाद घूमने का मन नहीं करता है। ऐसे में पेट से संबंधित समस्या हो सकती है। हालांकि ठंड में कैलोरी अधिक बर्न होती है। जिसके चलते जल्दी-जल्दी भूख लगती है और कुछ भी खाते रहते हैं। ऐसा करने से आपका वजन तेजी से बढ़ने लगेगा। इसलिए कोशिश
करें भूख लगने पर फाइबर युक्त चीजों का सेवन करें। जिससे आपका वनज भी नहीं बढ़ेगा और पाचन क्रिया भी ठीक रहेगा।

5. कम पानी - ठंड में अक्सर लोगों की शिकायत होती है कि उन्हें पानी की प्यास नहीं लगती है। लेकिन ऐसा नहीं करें। हर थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीते रहे। इससे बॉडी में पानी की कमी नहीं होगी। अन्यथा यूरीन में जलन, पेट में जलन होना,
पेट मंे गर्मी बढ़ जाना, बैचेनी होना, जी घबराना जैसी समस्या बढ़ जाती है। साथ ही स्किन सूख जाती है और खिचाव होने लगता है।

6. स्वेटर पहनकर सोना - क्या आप भी ठंड मंे स्वेटर पहनकर सोते हैं, तो ऐसा बिल्कुल नहीं करें। ऐसा करने से शरीर कच्चा पड़ता है। आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। अगर आपको बहुत अधिक ठंड लगती है तो गरम दूध पी सकते हैं, आपको काफी आराम मिलेगा और नींद भी अच्छी आएगी।

7. सेल्फ मेडिकेशन - ठंड में सेल्फ मेडिकेशन बहुत अधिक चलन में होता है। कई बार 7 से 8 दिन तक होने पर भी दवा अलग -अलग खुद के मन से लेते रहते हैं। लेकिन अधिक समय तक खांसी होने, बुखार आने या सर्दी होने पर वह गंभीर बीमारी भी हो सकती है। इसलिए ठंड में या अन्य किसी भी मौसम में सेल्फ मेडिकेशन से हमेशा बचें।

8. ठंड में बाहर से परहेज - ये सभी जानते हैं कि किसी को भी कंबल में से उठना किसी को भी पसंद नहीं होता है। लेकिन उस चीज से बचने पर नुकसान खुद का हो रहा है। जी हां, आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो सकती है, बॉडी अकड़ सकती है, किसी प्रकार की फिजिकल एक्टिविटी नहीं करने पर जोड़ों का दर्द भी बढ़ सकता है।



और भी पढ़ें :