हरिद्वार का लक्ष्मण झूला जो स्थित है हर की पौड़ी पर

उत्तररांचल प्रदेश में गंगा के तट पर स्थित कुंभ नगरी हरिद्वार मायापुरी नाम से भी जानी जाती है। यह भारतवर्ष के सात पवित्र स्थानों में से एक है अर्थात सप्तपुरियों में से एक हरिद्वार में कई पर्यटन और दर्शननीय स्थलों के साथ ही रोचक स्थल भी देखने को मिलेंगे। कुंभ नगरी हरिद्वार में ऐसा ही एक स्थल यह कहे की झूला है जिसे लक्ष्मण झूला कहा जाता है। आओ जानते हैं इसके बारे में संक्षिप्त जानकारी।

1.कहते हैं कि शेषावतार लक्ष्मण जी ने इसी स्थान पर जूट की रस्सियों के सहारे नदी को पार किया था।

2. आधुनिकाल में यहां एक पूल बनाया गया जिसे नाम दिया गया लक्ष्मण झूला।

3. इस पुल के पश्चिमी किनारे पर भगवान लक्ष्मण का मंदिर है जबकि इसके दूसरी ओर श्रीराम का मंदिर है।

4. इस पुल को सबसे पहले स्वामी विशुदानंद की प्रेरणा से कलकत्ता के सेठ सूरजमल झुहानूबला ने सन् 1889 में मजबूत तारों से बनवाया था परंतु यह 1924 की बाढ़ में बह गया तो फिर बाद में और भी मजबूत एवं आकर्षक पुल बनाया गया।



और भी पढ़ें :