FIFA WC 2018 : उरूग्वे को होगा फ्रांसीसी तिकड़ी से खतरा

निज्नी नोवगोरोद| पुनः संशोधित गुरुवार, 5 जुलाई 2018 (14:56 IST)
हमें फॉलो करें
निज्नी नोवगोरोद। में अपने प्रदर्शन से चौंकाने वाली शुक्रवार को फायरब्रांड एंटोनी ग्रिजमैन, ओलिवर गिरौड और काइलियान एम्बाप्पे की तिकड़ी की बदौलत उरूग्वे को मुकाबले में बाहर करने का प्रयास करेगी।


दक्षिण अमेरिकी टीम उरूग्वे ने अंतिम-16 मैच में क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाल को 2-1 से पराजित कर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया है। इस मैच में उरूग्वे के खिलाफ हुआ एक गोल रूस में चल रहे विश्व कप में उसके खिलाफ हुआ एकमात्र गोल ही है। यह उपलब्धि मौजूदा टूर्नामेंट में केवल ब्राजील ने ही अब तक हासिल की है, जिसके खिलाफ भी अब तक विपक्षी टीमें चार मैचों में केवल एक गोल ही कर सकी हैं।
हालांकि फ्रांसीसी टीम ने भी अपने प्रदर्शन से बहुत चौंकाया है, जिसने स्टार फारवर्ड लियोनेल मैसी की अर्जेंटीना के खिलाफ अंतिम-16 मैच में चार गोल किए और अब वह निज्नी नोवागोरोद स्टेडियम में भी अपनी आक्रामक तिकड़ी ग्रिजमैन, गिराउड और एम्बाप्पे की मदद से उरूग्वे के खिलाफ भी इसी प्रदर्शन को दोहराने की उम्मीद कर रही है।

19 साल के एम्बाप्पे ने अर्जेंटीना के खिलाफ मैच में दो गोल किए थे और वह ब्राजील के पेले के बाद पहले सबसे युवा फुटबॉलर बन गए हैं जिन्होंने विश्व कप में यह उपलब्धि अपने नाम की है। पेले ने वर्ष 1958 विश्व कप फाइनल में यह कामयाबी हासिल की थी। एम्बाप्पे ने मैच में बहुत तेजी दिखाते हुए फ्रांस को जिस तरह पेनल्टी दिलाई थी उसने सबसे अधिक सुर्खियां बटोरी थीं।
फ्रांस के मिडफील्डर फ्लोरियन थाउविन ने कहा कि मैं यह सोच रहा था कि क्या एम्बाप्पे स्कूटर चला रहे हैं। वह मैदान पर इतना तेज़ भाग रहे थे। उरूग्वे के डिफेंडरों को अब एम्बाप्पे से भी बड़ा खतरा होगा।

हालांकि उरूग्वे अपने अनुभवी डिफेंडरों जोस ग्रिजमैन और डिएगो गोडिन के भरोसे एम्बाप्पे और एटलेटिको मैड्रिड के दोस्त ग्रिजमैन की चुनौती को तोड़ने का प्रयास करेगा।
गोल स्कोरिंग के लिए उरूग्वे को सबसे ज्यादा भरोसा लुईस सुआरेज़ और एडिसन कवानी की जोड़ी पर है। उरूग्वे ने वर्ष 2010 में विश्व कप सेमीफाइनल तक जगह बनाई थी जो उसका हालिया सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है और वह निश्चित ही इसे पीछे छोड़ने का प्रयास कर रही है।

उरूग्वे ने इससे पहले वर्ष 1930 और 1950 में दो बार विश्व कप खिताब जीता है। (वार्ता)



और भी पढ़ें :