FIFA WC 2018 : ब्राजील का छठा विश्व कप जीतने का सपना तोड़ने को बेकरार बेल्जियम

कजान| पुनः संशोधित गुरुवार, 5 जुलाई 2018 (12:49 IST)
हमें फॉलो करें
कजान। छठी बार जीतने का सपना लेकर उतरी की टीम शुक्रवार को में से खेलेगी जिसका इरादा अपने देश के इतिहास का सुनहरा पन्ना लिखकर इस ‘स्वर्णिम दौर’ को अमर बनाने का होगा।


बेल्जियम फुटबॉल की सुनहरी पीढी को बखूबी पता है कि यह मैच विश्व स्तर पर एक ताकत के रूप में उभरने का उनके पास आखिरी मौका है। इस टीम के कई खिलाड़ी 2022 में होने वाले विश्व कप में नहीं होंगे। बेल्जियम कोच राबर्टो मार्टिनेज ने कहा, ‘हमारे खिलाड़ियों के लिए यह सपने जैसा है।’

बेल्जियम ने नॉकआउट चरण में जापान पर 3-2 से रोमांचक जीत दर्ज की थी। कोच ने कहा कि हमें डिफेंस मजबूत रखना होगा ताकि ब्राजील पर दबाव बना सकें। हम इसके लिए तैयार हैं।

बेल्जियम के पास चेलसी के इडेन हजार्ड, मैनचेस्टर सिटी के केविन डी ब्रूने और मैनचेस्टर युनाइटेड के रोमेलु लुकाकू जैसे सितारे हैं जो उलटफेर का माद्दा रखते हैं। बेल्जियम की टीम 2014 में भी अंतिम आठ में पहुंची थी जबकि उससे पहले 1986 में क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय किया था।


बेल्जियम ने सोमवार को दो गोल से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए 94वें मिनट में नासेर चाडली के गोल के दम पर जीत दर्ज की थी। वह विश्व कप नॉकआउट मैच में दो गोल से पिछड़ने के बाद जीत दर्ज करने वाली 48 साल में पहली टीम बनी।

लेकिन इस बार उसका सामना नेमार की ब्राजीली टीम से है। मैक्सिको के खिलाफ 2-0 से मिली जीत में नेमार ने शानदार प्रदर्शन करके दिखा दिया कि चोट को वह पीछे छोड़ चुके हैं।

ब्राजील के आक्रमण से ज्यादा बेल्जियम के लिए खतरा उसका डिफेंस है जिसने अभी तक एक ही गोल गंवाया है। थियागो सिल्वा ने पिछली जीत के बाद कहा, ‘यह पेचीदा मैच था लेकिन हमने दमदार वापसी की। अभी हमें सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना है।’ (भाषा)



और भी पढ़ें :