फीफा विश्व कप के दौरान मैदान में घुसने पर चार को जेल की सजा

मॉस्को| पुनः संशोधित मंगलवार, 17 जुलाई 2018 (15:13 IST)
मॉस्को। रूस में फाइनल के दौरान पुलिस की पोशाक पहनकर पिच तक पहुंचे ‘फेमीनिस्ट पंक ग्रुप’ के चार सदस्यों को 15 दिन के लिए की सजा सुनाई गई है।

मॉस्को की अदालत ने वेरोनिका निकुलशिना, ओल्गा कुराचेवा, ओल्गा पाखतुसोवा और प्योतर वेरजिलोव को 15 दिन जेल की सजा सुनाई और साथ ही तीन साल तक इनके खेल प्रतियोगिताओं के आयोजन स्थलों पर पहुंचने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

‘मीडियाजोना’ समाचार वेबसाइट ने सोमवार रात यह खबर दी। इन चारों को दर्शकों के बर्ताव से जुड़े नियमों के घोर उल्लंघन का दोषी पाया गया और इस आरोप के अंतर्गत उन्हें अधिकतम सजा दी गई है। वेरजिलोव मीडियाजोना वेबसाइट के संस्थापक हैं जो विभिन्न अधिकारों के लिए लड़ने वाले कार्यकर्ताओं की सुनवाई से जुड़ी खबरें छापते हैं।
ये चारों रविवार को मॉस्को के लुज्निकी स्टेडियम में मैदान पर पहुंच गए थे जिससे फ्रांस और क्रोएशिया के बीच चल रहे के दूसरे हॉफ का खेल कुछ देर रोकना पड़ा था। इस मैच को देखने के लिए स्टेडियम में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के अलावा फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रों जैसे विश्व के बड़े नेता मौजूद थे। (भाषा)


और भी पढ़ें :