ट्‍विटर पर कुमार विश्वास और शाजिया की नोंकझोंक

नई दिल्ली| पुनः संशोधित शनिवार, 7 फ़रवरी 2015 (00:29 IST)
नई दिल्ली। के लिए मतदान के ठीक पूर्व आप पार्टी के नेता और आप पार्टी को छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाली शाजिया इल्मी के बीच सोशल मीडिया पर तीखी नोंकझोक होती रही। इन दोनों नेताओं ने अपनी भड़ास टि्वटर पर जग जाहिर की।
कुमार विश्वास लिखते हैं...
'बस थोड़ा सा और दम, दिल्ली जीत रहे हैं हम !!!'
 
'गजब खलबली है अली बाबा के चालीस चोरों में, 
अब बस 'साहेब' का राष्ट्र के नाम संदेश रह गया है.. कि 'मितरों केज़रीवाल से बचाओ'
 
शाही ईमाम की PC के कुछ मिनटों बाद अरुण जेटली जी की इसी विषय पर बुलाई गई PC साफ-साफ बता रही है कि अब बीजेपी सब कुछ...
 
शाही ईमाम की PC के कुछ मिनटों बाद अरुण जेटली जी की इसी विषय पर बुलाई गई PC साफ-साफ बता रही है कि अब सब कुछ हारकर साम्प्रदायिकता का आखिरी दांव चल रही है
 
लो जी दीदी कह रही है जिधर 'विश्वास' है, जीत उसी की होगी 
 
समाजसेवी अन्ना हजारे ने जब दिल्ली के रामलीला मैदान में 'लोकपाल' को लेकर आंदोलन किया था, तब शाजिया इल्मी और कुमार विश्वास के साथ-साथ किरण बेदी ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था। ये तीनों एक ही मंच से हुंकार भरते नजर आए थे लेकिन समय का फेर देखिये कि किरण बेदी भाजपा साथ हो गई और फिर लोकसभा व विधासभा चुनाव हार चुकी शाजिया को भी भाजपा रास आ गई...
 
शाजिया ने सार्वजनिक रूप से आप पार्टी पर जो बाण चलाए, वे जगजाहिर हैं। शुक्रवार के दिन शाजिया ने ट्‍विटर को अपना हथियार बनाया।
 
शाजिया इल्मी के ट्‍विटर अकाउंट पर लकी तिवारी लिखते हैं...
पहले शराब, अब साड़ियां उसके बाद शायद हथियार भी मिलेंगे। सत्ता के लिए केजरीवाल कुछ भी कर सकते हैं
 
शाजिया के ट्‍विटर अकाउंट पर एक ऑटो रिक्क्षा की तस्वीर है, जिसके पीछे लगे पोस्टर पर लिखा है...
काली रात का काला चंदा
यही है आपका धंधा 



और भी पढ़ें :