बुखारी ने कहा- 'आप' ने खुद मांगा था समर्थन

पुनः संशोधित शनिवार, 7 फ़रवरी 2015 (09:28 IST)
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी की ओर से समर्थन ठुकराए जाने के बाद शाही इमाम बुखारी ने नया खुलासा किया है। बुखारी ने कहा है कि खुद आप के नेता उनके भाई से समर्थन मांगने आए थे।
 
बुखारी ने कहा कि अलका लांबा ने मेरे भाई तारिक बुखारी से मिलकर समर्थन मांगा था। मैं वोट बंटने से रोकना चाहता था। दिल्ली में बीजेपी जैसी फिरकापरस्त ताकत ना आ जाए इसलिए मैंने आप को समर्थन की अपील की थी।
 
बुखारी ने ये भी माना कि हर किसी को अपनी राय रखने का हक है। मैंने भी अपनी राय रखी थी। मैंने घोषणापत्र पढ़ने के बाद समर्थन का फैसला किया था। अगर आप को मेरा समर्थन नहीं चाहिए तो मुसलमानों का क्यों चाहिए था। बुखारी ने माना कि उन्होंने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया था ताकि धर्मनिरपेक्ष वोट न बंटे।
 
बुखारी ने कहा कि इनके यहां खुद आरएसएस के लोग बैठे हैं। आशुतोष ने केजरीवाल को रोका कि हमें मुसलमानों के वोट नहीं चाहिए। ये लोग मंदिर, गुरुद्वारे, चर्चा गए लेकिन मस्जिद नहीं आए। आशुतोष ने रोका कि तुम्हें मुसलमानों की इबादतगाह में जाने की जरूरत नहीं है।- IBN



और भी पढ़ें :