कोरोना के संदिग्ध बोलसोनारो से मिले ट्रम्प, अब बोले मैं भी कराऊंगा कोरोना वायरस की जांच

पुनः संशोधित शनिवार, 14 मार्च 2020 (09:36 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा है कि इस बात की संभावना अधिक है कि उनकी के लिए जांच की जाएगी। हालांकि साथ ही उन्होंने कहा कि उनमें इस बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिखे हैं। ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा, ‘मैं नहीं कह सकता कि जांच नहीं होगी..अधिक संभावना है कि जांच होगी।’

उनकी यह टिप्पणी तब आई है जब व्हाइट हाउस के रोज गार्डन में एक संवाददाता सम्मेलन में उनसे लगातार यह पूछा गया कि वह जांच क्यों नहीं करा रहे जबकि गत सप्ताहांत उन्होंने ब्राजील के उस अधिकारी से मुलाकात की थी जो बाद में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया।


ट्रम्प ने ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो और उनके संचार प्रमुख फैबियो वाजगार्टन से फ्लोरिडा में मुलाकात की थी। वाजगार्टन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए जबकि बोलसोनारो संक्रमित नहीं पाए गए।

ट्रम्प ने कहा, ‘उस कारण से नहीं बल्कि मुझे लगता है कि मैं इसे वैसे भी करूंगा।’ इससे दो दिन पहले व्हाइट हाउस ने कहा था कि राष्ट्रपति को कोरोना वायरस की जांच कराने की जरूरत नहीं है।


अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘जांच जल्द ही की जाएगी। हम इस पर काम कर रहे हैं। हम जल्द ही समय तय कर लेंगे। अभी कोई लक्षण नहीं हैं। ब्राजील के राष्ट्रपति से हमारी मुलाकात बहुत अच्छी रही। बोलसोनारो शानदार व्यक्ति हैं। वह ब्राजील के लिए बेहतरीन काम कर रहे हैं। वह जांच में संक्रमित नहीं पाए गए इसका मतलब है कि कुछ भी गलत नहीं है।’

इस बीच ट्रम्प ने शुक्रवार को राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा की, इससे कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए संघीय कोष से सरकार को 50 अरब डॉलर की राशि मिलेगी।

उधर, ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण की उनकी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। बोलसोनारो के संचार प्रमुख फैबियो वाजगार्टन गत सप्ताहांत अमेरिका की यात्रा के बाद कोविड-19 से संक्रमित पाए गए थे, जिसके बाद बोलसोनारो की भी जांच की गई। अमेरिका की यात्रा के दौरान दोनों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से मुलाकात की थी। वाजगार्टन ने ट्रम्प के बगल में खड़े होकर तस्वीरें भी खिंचवाई थी।
इस जानलेवा विषाणु से अमेरिका में 41 लोगों की मौत हो चुकी है। यह अमेरिका के 50 राज्यों में से 46 में फैल चुका है और देशभर में करीब 2,000 मामले सामने आए हैं। व्हाइट हाउस के लॉन में ट्रंप ने एक बयान में कहा, ‘संघीय सरकार की पूर्ण शक्ति का उपयोग करने के लिए मैं आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा करता हूं।’

उन्होंने अमेरिका के सभी राज्यों से आपात ऑपरेशन केन्द्र बनाने को कहा है। उन्होंने कहा, ‘हालात और बदतर हो सकते हैं। अगले आठ सप्ताह बहुत अहम हैं।’
राष्ट्रपति ने कहा, ‘हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि जिन लोगों को जांच की जरूरत है उनकी सुरक्षित, तेजी और सुविधाजनक तरीके से जांच हो। उन्होंने यह पता लगाने के लिए एक वेबसाइट बनाने के वास्ते सर्ज इंजन गूगल का शुक्रिया अदा किया कि जांच की जरूरत है या नहीं। साथ ही गूगल ने नजदीक के केंद्र में जांच सुविधा उपलब्ध कराने में भी सहायता की। ट्रम्प ने कहा कि गूगल के 1,700 इंजीनियर अभी इस पर काम कर रहे हैं और उन्होंने शानदार प्रगति की है।



और भी पढ़ें :