शुक्रवार, 26 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. अन्य खेल
  3. कॉमनवेल्थ गेम्स 2022
  4. Sakshi Malik fails to check her emotions at the podium during National Anthem
Written By
Last Modified: शनिवार, 6 अगस्त 2022 (14:07 IST)

राष्ट्रगान पर सोना जीतने वाली साक्षी के छलक गए आंसू, Video हुआ वायरल

राष्ट्रगान पर सोना जीतने वाली साक्षी के छलक गए आंसू, Video हुआ वायरल - Sakshi Malik fails to check her emotions at the podium during National Anthem
राष्ट्रमंडल खेलों की कुश्ती स्पर्धा में शुक्रवार को साक्षी मलिक ने 62 किग्रा के फाइनल में कनाडा की एना गोंडिनेज गोंजालेस को चित करके स्वर्ण पदक अपने नाम किया। यह साक्षी का राष्ट्रमंडल खेलों में पहला स्वर्ण पदक है। इससे पहले वह राष्ट्रमंडल खेलों में रजत और कांस्य पदक जीत चुकी हैं। वहीं अंशु मलिक ने 57 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा में रजत पदक जीतकर देश का कुश्ती में खाता खोला था।

ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक अंतिम चार मुकाबले में कैमरून की बर्थे इमिलिएने इटाने एनगोले पर तकनीकी श्रेष्ठता से 10-0 की जीत से फाइनल में पहुंची थी ।

साक्षी ने क्वार्टरफाइनल में भी तकनीकी श्रेष्ठता से जीत हासिल की। उन्होंने इस शुरूआती मुकाबले में मेजबान इंग्लैंड की केलसे बार्नेस को मात दी।

पहले राउंड में साक्षी 0-4 से पीछे चल रही थी लेकिन दूसरे राउंड में गजब की वापसी की और 4-4 की बराबरी कर ली और अंत में चित्त करके पहलवान को हरा दिया।

शायद यह ही वजह रही कि साक्षी मलिक के आंखो से तब खुशी के आंसू छलक पड़े जब पोडियम पर राष्ट्रगान बजा। यह वीडियो ट्विटर पर काफी वायरल हुआ।
बजरंग और दीपक ने भी जीते गोल्ड मेडल

तोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग का 65 किलो वर्ग में इतना दबदबा रहा कि पहले दौर में ही उन्होंने चार में से तीन मुकाबले जीते । उन्होंने फाइनल में कनाडा के लाचलान मैकनील को 9-2 से हराया। इससे पहले इंग्लैंड के जॉर्ज रैम पर तकनीकी श्रेष्ठता (10-0) से जीत दर्ज कर आसानी से फाइनल में जगह बनायी थी।

दीपक पूनिया ने पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को पुरूषों के 86 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग में 3 . 0 से हराकर भारत को तीसरा स्वर्ण दिलाया । वह कनाडा के एलेक्जेंडर मूर को 3-1 से पराजित करके फाइनल में पहुंचे थे।

दिव्या ककरान ने महिलाओं के 68 किलो वर्ग में कांस्य पदक के प्लेआफ मुकाबले में टोंगा की टाइगर लिली को महज 26 सेकंड में हराकर कांस्य पदक जीता । पुरूषों के 125 किलो वर्ग में प्लेआफ मुकाबले में मोहित ग्रेवाल ने जमैका के आरोन जॉनसन को 6 . 0 से हराकर कांस्य पदक अपने नाम किया।

अंशु को फाइनल में नाईजीरिया की ओडुनायो फोलासाडे एडुकुरोये से 3-7 से हार का सामना करना पड़ा।
अंशु ने इससे पहले हर मुकाबले में दबदबा बनाया। उन्होंने क्वार्टरफाइनल में आस्ट्रेलिया की इरेन सिमियोनिडिस और सेमीफाइनल में श्रीलंका की नेथमी पोरूथोटागे पर तकनीकी श्रेष्ठता (10-0) से जीत दर्ज की।
ये भी पढ़ें
जिम्बाब्वे ने बांग्लादेश से 9 साल बाद जीता वनडे मैच, पाक मूल का यह बल्लेबाज रहा हीरो