शनि की उल्टी चाल, 6 राशियों वाले रहें सावधान, 6 राशियों वालों की बढ़ेगी शान

पुनः संशोधित सोमवार, 6 जून 2022 (15:03 IST)
हमें फॉलो करें
rashifal : 5 जून 2022 से शनि ग्रह कुंभ राशि में वक्री चाल चल रहे हैं जो 23 अक्तूबर तक इसी वक्री अवस्था में ही गोचर करेंगे। यानी की करीब 141 दिन तक शनि ग्रह वक्री रहेंगे। तब तक 6 राशियों को रहना होगा सावधान और 6 राशियों की बढ़ेगी शान।


6 राशियों वाले रहे सावधान :

1. कर्क राशि : आपकी राशि के आठवें भाव में शनि का वक्री गोचर पुराने रोग फिर से उत्पन्न कर सकता है। अचानक से लाभ या हानि के योग हैं। घटना और दुर्घटनाओं से बचकर रहें। लंबी यात्रा के योग बन रहे हैं। वैवाहिक जीवन में उत्तम फल प्राप्त होंगे।

2. सिंह राशि : आपकी राशि के सातवें भाव में शनि का वक्री गोचर होगा। इस दौरान दांपत्य जीवन में समस्याएं खड़ी हो सकती है और साझेदारी के व्यापार में नुकसान हो सकता है। हालांकि स्वतंत्र व्यापार करते हैं तो लाभ होगा। आपके शत्रु सक्रिय होंगे। विदेश जाने के प्लान है तो सक्सेस होगा। छात्रों का प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलने की संभावना है।
3. तुला राशि : आपकी राशि के पंचम भाव में शनि का वक्री गोचर विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए सही नहीं है। प्रेमी प्रेमिकाओं के लिए भी यह समय अनुकूल नहीं है। दोनों में मतभेद उत्पन्न हो सकते हैं। परिवार में भी सामंजस्यता बैठाने में समस्या होगी। सभी की सेहत का ध्यान रखें।

4. कन्या राशि : आपकी राशि के छठे भाव में शनि की वक्री चाल आपकी सेहत बिगाड़ सकती है। नौकरीपेशा हैं तो शत्रु सक्रिय होकर नुकसान पहुंचा सकते हैं। आर्थिक नुकसान हो सकता है। घटना दुर्घटना के योग हैं। वाहन चलाते वक्त सावधानी रखें।
5. वृश्‍चिक राशि : आपकी राशि के चौथे भाव में शनि का वक्री गोचर माता की सेहत बिगाड़ सकता है। पैतृक संपत्ति को लेकर विवाद हो सकता है। वैवाहिक जीवन में की कष्ट देखने को मिल सकते हैं। हालांकि करियर के लिहाज से समय अच्छा है।

6. मीन राशि : आपकी राशि के द्वादश भाव में वक्री शनि का गोचर आपके खर्चे बढ़ा देगा। आपको अपनी सेहत का ध्यान रखना होगा। नौकरीपेशा लोग और व्यापारी अपने कार्यक्षेत्र में सतर्क रहें। विवाहित लोगों को भी शांति और संयम बनाए रखने की जरूरत है।
Shani
6 राशियों वालों की बढ़ेगी शान :
1. मेष : आपकी राशि में शनि एकादश भाव में वक्री है जो कि शुभ परिणाम देंगे। नौकरीपेशा और व्यापारियों के लिए यह समय अच्छा है। आपकी आय में अच्छी वृद्धि होने के आसार है। यात्रा के योग बनेंगे।

2. वृषभ : आपकी राशि में शनि दशम भाव में वक्री हैं जो कि कार्यक्षेत्र में शुभ परिणाम देंगे। करियर में उन्नति होगी। नौकरी में प्रमोशन होने की संभावना है। साझेदारी के व्यापार को छोड़कर बाकी व्यापार में प्रगति होगी।

3. मिथुन : शनि आपकी राशि के नौवें भाव में वक्री हैं। ऐसे में आपको भाग्य का साथ मिलेगा। नौकरी और व्यापार में आपको भाग्य का साथ मिलेगा। हालांकि आपको अपनी सेहत का ध्यान रखना होगा।

4. धनु : आपकी राशि के तीसरे भाव में शनि का वक्री गोचर भाग्य का और भाई-बहनों का पूर्ण रूप से सहयोग दिलाएगा। हालांकि घर के सदस्यों के बीच मनमुटाव रहेगा। नौकरी में अनुकूल समय है और करियर में सफलता अर्जित करेंगे।
5. मकर : शनि आपकी राशि के दूसरे भाव में वक्री हैं जिसके चलते पारिवारिक जीवन प्रभावित होगा। हालांकि आपकी सुख सुविधाओं में विस्तार होगा। सेहत ठीक होगी। नौकरी और व्यापार में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे।

6. कुंभ : आपकी राशि के लग्न भाव में शनि का वक्री होना आपके स्वभाव को प्रभावित करेगा। आपको जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। कार्यक्षेत्र और करियर में उन्नति होगी।



और भी पढ़ें :