नवरात्रि के राशि अनुसार शुभ उपाय किस्मत बदल देंगे, माता रानी देंगी आशीर्वाद

पुनः संशोधित बुधवार, 28 सितम्बर 2022 (15:15 IST)
हमें फॉलो करें
Sharadiya Navratri 2022: मान्यता के अनुसार शारदीय नवरा‍त्रि के 9 दिनों में किए गए उपाय बहुत ही जल्दी शुभ फल प्रदान करते हैं, जिससे आपकी हर कामना पूरी हो सकती है। शारदीय नवरात्रि में सुख-शांति और सौभाग्य-समृद्धि प्राप्ति करना चाहते हैं तो राशि के अनुसार करें उपाय और पढ़े शुभ पाठ।

मेष- मेष राशि वाले प्रात:काल दुर्गा चालीसा के 11 पाठ करें। पीले फूलों को अर्पित करें।

वृषभ- वृषभ राशि वाले प्रात:काल देवी-कवच या सप्तश्लोकी का पाठ करें। सफ़ेद चीजों से मां की पूजा करें।

मिथुन- मिथुन राशि वाले प्रात:काल अर्गला स्तोत्र का पाठ करें। माता को शक्कर और पंचामृत का भोग लगाएं।

कर्क- कर्क राशि वाले गौरी-जी की आराधना करें। दही, चावल और बताशे का भोग लगाएं।
सिंह- सिंह राशि वाले आदित्य-हृदय-स्तोत्र के 11 पाठ करें। रोली और केसर अर्पित करें।

कन्या- कन्या राशि वाले गायत्री-मंत्र जाप करें। दूध और चावल से बनी खीर का भोग लगानी चाहिए।
तुला- तुला राशि वाले श्री-सूक्तम या दुर्गा सप्तशती का पाठ करें। लाल चुनरी चढ़ाएं।
वृश्चिक- वृश्चिक राशि वाले मंगला-स्तोत्र का पाठ करें। गुडहल का फूल तथा गुड़ का भोग अर्पित करें।

धनु- धनु राशि वाले कुंजिका स्तोत्र या सप्तशती का पाठ करें। पीले रंग की मिठाई तथा तिल का तेल अर्पित करें।

मकर- मकर राशि वाले हनुमान चालीसा के 11पाठ नौ दिन करें। नारियल की बर्फी का भोग लगाएं।

कुंभ- कुंभ राशि वाले सुंदरकांड या देवी कवच का पाठ करें। घी का दीपक जलाएं।
मीन- मीन राशि वाले राम-रक्षास्तो‍त्र का पाठ करें। केला, पीला फूल अर्पित करें।



और भी पढ़ें :