नवंबर माह में इन 5 राशियों को रहना होगा संभलकर, वर्ना हो सकता है बड़ा नुकसान

Monthly horoscope
Last Updated: सोमवार, 8 नवंबर 2021 (13:59 IST)
for the month of November 2021: नवंबर माह में बुध, सूर्य और के गोचर की स्थितियों के अनुसार 5 ऐसी राशियां हैं जिन्हें संभलकर रहने की सलाह दी जा रही है। उन्हें अपने क्रोध पर काबू रखना होगा, खर्चों पर लगाम लगानी होगी और किसी भी प्रकार के जोखिम को उठाने के पूर्व सोचना होगा। उन्हें अपनी जिम्मेदारियों को समझना होगा। आओ जानते हैं कि कौनसी वो 5 राशियां हैं जिनको थोड़ी बहुत मुश्‍किल का सामना करना होगा।


( नवंबर 2021 में इन 5 राशियों को करना होगा चुनौतियों का सामना : These 5 zodiac signs will have to face challenges in November 2021 )

1. वृषभ ( Taurus ) : वृषभ राशि के लिए बुध दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी है, जो ऋण, शत्रु और दैनिक मजदूरी के छठे भाव में गोचर कर रहा है। मतलब यह समय ठीक नहीं है परंतु जब बुध आपके विवाह और साझेदारी के सप्तम भाव में गोचर करेगा तब समय ठीक होगा। सूर्य आपकी राशि के चतुर्थ भाव का स्वामी होकर सप्तम भाव में गोचर करेगा। सप्तम भाव में सूर्य नीच का माना जाता है। हालांकि इस दौरान वह वृश्‍चिक में रहेगा। फिर भी साझेदारी के काम और दांपत्य जीवन को यह प्रभावित करेगा। 20 नवंबर को बृहस्पति का गोचर दशम भाव में होने से कार्यक्षेत्र में उतार-चढ़ाव की स्थिति हो सकती है।

2. तुला ( Libra ) : तुला चंद्र राशि के लिए बुध बारहवें और नौवें भाव का स्वामी होकर लग्न में गोचर करेगा। जब तक बुध तुला में रहेगा यह समय अच्छा नहीं रहेगा। इसके बाद जब वह वृश्चिक में पहुंचकर आपकी राशि के द्वादश में गोचर करेगा तब समय अच्‍छा होगा। हालांकि सुखद बात यह है कि जब आपकी राशि के लिए सूर्य ग्यारहवें भाव का स्वामी होकर दूसरे भाव में गोचर करेगा तब परिवार में सुख और समृद्धि लेकर आएगा। इसके बाद 20 नवंबर को जब बृहस्पति आपकी कुंडली के पंचम भाव में पहुंच जाएंगे तब भाग्य साथ देगा और शरीर भी। आय के स्रोत बढ़ेंगे।
3. वृश्चिक ( Scorpio ) : वृश्चिक राशि के लिए बुध एकादश और आठवें भाव का स्वामी है और बारहवें भाव में व्यय, हानि और विदेशी लाभ के भाव में गोचर करेगा। तब तक का समय ठीक नहीं है। इसके बाद बुध इसी माह लग्न में गोचर करेगा। इस गोचर के दौरान आपको मिले-जुले परिणाम मिलने की संभावना। इस दौरान आपकी राशि के दसम भाव का स्वामी सूर्य भी लग्न में गोरच करेगा। ऐसे में आपके स्वभाव में परिवर्तन देखने को मिलेगा। तब तक का समय ठीक नहीं है परंतु 20 नवंबर को बृहस्पति राशि परिवर्तन करके चतुर्थ भाव में आए जाएंगे। इसे सुखों में बढ़ोतरी होगी। माता की सेहत में भी सुधार होगा।
Sun Transit libra
4. मिथुन ( Gemini ) : मिथुन राशि के लिए चौथे भाव का स्वामी बुध पंचम भाव में गोचर करेगा। व्यावसायिक दृष्ट से यह गोचर सही है, परंतु परिवार पर ध्यान देना होगा। इसके बाद जब बुध वृश्चिक में गोचर करते हुए यह आपके छठे भाव में गोचर करेगा तब कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। परंतु इसी दौरान सूर्य जब आपकी राशि के छठे भाव में गोचर करेंगे तब आपको सफलता मिलेगी। फिर 20 नवंबर को बृहस्पति के गोचरवश नवम भाव में जाने से स्थितियों में तेजी से सुधार होगा।
5. मीन ( Pisces ) : मीन राशि के जातकों के लिए बुध चतुर्थ और सप्तम भाव का स्वामी होकर अष्टम भाव में गोचर करेगा जो भी शुभ नहीं माना जा रहा है। इसके बाद यह नवम भाव में गोचर करेगा जो आपमें धार्मिक प्रवृत्ति बढ़ाएगा। इसी दौरान मीन राशि के लिए सूर्य छठे भाव का स्वामी होकर नौवें भाव में गोचर करेगा तब आपको और भी मेहनत करने की जरूरत होगी। हलांकि यह मुला जुला समय ही रहेगा। परंतु इसके बाद बृहस्पति बारहवें भाव में पहुंच जाएंगे। इससे सेहत संबंधी कुछ चुनौतियां खड़ी हो सकती हैं। शत्रु सक्रिय रहेंगे। शेयर बाजार, लाटरी या सट्टे जैसा कोई कार्य करेंगे तो हानि होने की संभावना है।



और भी पढ़ें :