Astrology 2020 : नए साल में केतु का राशि परिवर्तन किन राशियों के लिए है शुभ, किनके लिए अशुभ


नया वर्ष 2020 आ गया
है। आइए जानें कि राहु प्रधान इस वर्ष में केतु राशियों को कैसे प्रभावित करेगा। जब केतु किसी व्यक्ति की कुंडली में शुभ होता है तो वह उस व्यक्ति की कल्पना शक्ति को असीम कर देता है। जबकि अशुभ होने पर यह इंसान का सर्वनाश कर सकता है।

वर्ष 2020 में केतु ग्रह राशि परिवर्तन कर रहा है। इस वर्ष केतु 23 सितंबर 2020 को सुबह 08: 20 बजे गुरु की राशि धनु से मंगल की राशि वृश्चिक में जाएगा। केतु के इस राशि परिवर्तन का प्रभाव सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। वर्ष 2020 में केतु का आपकी राशि पर कैसा प्रभाव होगा आइए जानते हैं...

मेष राशि
मेष राशि वालों को केतु का गोचर अधिक धार्मिक बना सकता है। पिछले समय में हुए सभी नुकसान पूरे हो सकते हैं। आर्थिक स्थिति अच्छी होगी। इस वर्ष आपके किसी तीर्थ स्थल पर जाने की संभावना है। सांसारिक जीवन की अपेक्षा अध्यात्म जीवन में आपकी रुचि बढ़ेगी।
वृष राशि
इस वर्ष आपको केतु किसी शोध में कामयाबी दिला सकता है। आपको पैरों में दर्द की शिकायत रह सकती है। धन संबंधी कामों में सावधानी रखनी होगी। बचत पर ध्यान देना होगा। ज्यादा दिखावे से बचना होगा। धन का सदुपयोग करें और आवश्यक कार्यों में ही व्यय करें।
मिथुन राशि
मिथुन राशि के जातकों को कार्यक्षेत्र में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन में भी परेशानियां उत्पन्न होंगी। जीवनसाथी और व्यापार में सहयोगियों से मतभेद हो सकते हैं। जरूरी काम होते रहेंगे और धन की आवक सामान्य रहेगी। परिवार की स्थिति संतोषजनक रहेगी।
कर्क राशि
कर्क राशि के जातकों के लिए केतु का गोचर अशुभ परिणामकारी हो सकता है। इस दौरान आपको जीवन में संघर्ष का सामना करना पड़ सकता है। शत्रु आपके ऊपर हावी होने का प्रयास करेंगे और आपको स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है।
सिंह राशि
केतु के गोचर से आपको संतान से जुड़ी समस्या हो सकती है। प्रेम जीवन में पार्टनर के साथ गलतफहमियां बढ़ेंगी। छात्र हैं तो आपको अच्छे परिणाम मिलने की प्रबल संभावना है। व्यापार में तरक्की होगी। नौकरी करने वालों को भी प्रमोशन के साथ धन का लाभ हो सकता है।
कन्या राशि
सुखों में कमी आने की संभावना है। इस समय आपकी माता जी की सेहत भी खराब रह सकती है। यदि आप इस समय कोई वाहन या प्रॉपर्टी खरीदने वाले हैं तो उन्हें मुहूर्त के हिसाब से ही खरीदें। पैसों की कमी का सामना करना पड़ सकता है।

तुला राशि
केतु के गोचर के प्रभाव से आपके साहस में कमी आएगी। आपका आत्मविश्वास कमजोर हो सकता है। साथ ही घर में छोटे भाई-बहनों के साथ भी मतभेद हो सकते हैं। अध्यात्म के विषय आपको अपनी ओर आकर्षित करेंगे।
वृश्चिक राशि
इस वर्ष आपकी राशि में केतु का गोचर होगा, इसलिए परिस्थितियां आपके लिए प्रतिकूल होंगी। आपका मोह सांसारिक चीजों से भंग हो सकता है। धार्मिक, वैराग्य और अध्यात्म के विषय आपको अपनी ओर आकर्षित करेंगे।
धनु राशि
केतु के गोचर से आपकी कल्पना शक्ति प्रबल होगी। आपको को चीजों का पूर्वानुमान हो सकता है। वहीं कार्य व व्यवसाय में परिस्थितियां आपके अनुकूल नहीं होंगी। घर में परिजनों से अनबन हो सकती है। समय का सदुपयोग करें, लाभ मिलेगा।
मकर राशि
इस वर्ष आपके खर्चों में अनावश्यक रूप से वृद्धि हो सकती है। धन हानि की संभावनाएं हैं। लंबी दूरी की यात्राएं योग में हैं लेकिन इस यात्राओं में आप अधिक धन खर्च होगा। इस वर्ष आप किसी कारण से विदेश यात्रा पर भी जा सकते हैं।
कुंभ राशि
इस साल आपकी आमदनी में वृद्धि होगी। रुका हुआ पैसा आसानी से प्राप्त होगा। भाई बहनों में स्नेह बढ़ेगा। कार्य क्षेत्र में उपलब्धि अथवा पहचान के प्रबल योग हैं। धन की दृष्टि से बहुत शुभ और सफलतादायक है यह वर्ष। केतु अधिष्ठित चंद्र कुंडली में होगा तो बाधाओं से मुक्ति मिलेगी।
मीन राशि
मीन राशि के जातकों की राह में परिस्थितियां आसान नहीं होंगी। कार्यक्षेत्र में चुनौतियां आएंगी। इस साल ऑफिस में आपके विरोधी आपकी छवि को नुकसान पहुंचाने की पूरी कोशिश करेंगे। आपको उनके कुचक्र से बचने की आवश्यकता होगी। कठिन समय से सबक भी मिलेंगे।




और भी पढ़ें :