दोषियों पर सख्त कार्रवाई हो : मिल्खा सिंह

नई दिल्ली| भाषा|
हमें फॉलो करें
FILE
भारतीय स्टार एथलीट ने एथलेटिक्स प्रकरण में द्वारा कड़ी कार्रवाई की प्रशंसा की और दोषी कोचों, खिलाड़ियों और अधिकारियों के खिलाफ सख्त कदम उठाने की सलाह दी।


'उड़न सिख' मिल्खा सिंह ने एक विशेष बातचीत में कहा छह-सात साल पहले भी एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों में डोपिंग के मामले सामने आए थे। भारत को शर्मसार होना पड़ा था लेकिन तब कोच, खिलाड़ियों के कोई कड़ी कार्रवाई नहीं हुई थी।

इस शीर्ष एथलीट ने खेल मंत्री अजय माकन द्वारा उठाये गये कदमों की तारीफ करते हुए कहा कोचों को निलंबित करना सकारात्मक कदम है। डोपिंग के लिए भारतीय ओलिम्पिक संघ (आईओए) और सरकार भी जिम्मेदार है क्योंकि भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) उसके अंतर्गत आता है जो देश के संभी खेल संघों के लिये कोचों की नियुक्ति करता है।

इस ओलिम्पियन ने कहा ये कोच ही खिलाड़ियों को फूड सप्लीमेंट लेने के लिए कहते हैं, जिसमें प्रतिबंधित पदार्थ मौजूद होते हैं। यह पूछने पर कि क्या एथलीटों को इसकी जानकारी नहीं होती?


मिल्खा सिंह ने कहा सभी बच्चों को डोपिंग के बारे में मालूम होता है। अब तो स्कूली स्तर से ही डोपिंग की जानकारी दी जाती है और जब आप शिविर में अन्य एथलीटों के साथ होते तो इसके बारे में सब पता चलता रहता है। अब तो स्कूली स्तर पर भी बच्चे जानबूझकर इंजेक्शन लेते हैं ताकि उनके प्रदर्शन में सुधार हो सके। (भाषा)



और भी पढ़ें :