'आईएनएस त्रिखंड' भारतीय नौसेना में शामिल

नई दिल्ली| भाषा| Last Updated: मंगलवार, 8 जुलाई 2014 (11:43 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। अपने नौसैनिक कौशल में इजाफा करते हुए ने शनिवार को वहां कलिनिनग्राद में रूस निर्मित निर्देशित मिसाइल से लैस एक को नौसेना में शामिल किया
नौसेना ने कहा, को पारंपरिक सैन्य उत्साह के साथ एक भव्य समारोह में भारतीय नौसेना में शामिल किया गया। यह रूस में निर्मित 'फॉलो ऑन तलवार श्रेणी' के तीन पोत में से एक है। इसे शामिल किए जाने के साथ ही दोनों पक्षों के बीच तीन जहाजों के लिए अनुबंध पूरा हो गया।

इस श्रेणी के दो अन्य जहाजों आईएनएस तेग और आईएनएस तरकश को पिछले साल शामिल किया गया था और मुंबई में भारतीय नौसेना के पश्चिमी बेड़े के हिस्से के तौर पर अब अभियान में लगे हुए हैं।

आईएनएस त्रिखंड पर अनेक युद्धक हथियारों का समूह मौजूद है। इसमें सुपर सोनिक ब्रह्मोस मिसाइल प्रणाली, सतह से हवा में मार करने वाला आधुनिक प्रक्षेपास्‍त्र 'शीतल', मध्यम दूरी तक मार करने वाला समुन्नत ए190 तोप, 30 मिमी का इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल क्लोज-इन वेपन सिस्टम (सीआईडब्ल्यूएस), पनडुब्बीरोधी हथियार यथा टॉरपीडो और रॉकेट शामिल हैं।

नौसेना ने कहा, जहाज में राडार, चुंबकीय और ध्वनि पहचानों को कम करने के नवोन्मेषी विशेषताएं भी हैं। इससे इस श्रेणी के जहाजों को 'स्टील्थ' जहाज की उपाधि मिली है। यह जहाज समन्वित कामोव 31 हेलीकॉप्टर की ढुलाई कर सकता है, जो हवाई पूर्व चेतावनी की भूमिका के लिए उपयुक्त है। यह जहाज शीघ्र भारत के लिए अपनी पहली यात्रा शुरू करेगा। उसके बाद वह पश्चिमी बेड़े में शामिल होगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :