बातें करने से दौड़ता है बच्‍चे का दिमाग

ND|
ND
ND
अगर आप अपने दूध पीते बच्चे को बुद्घिमान बनाना चाहते हैं तो उससे ढेर सारी बातें करना शुरू कर दीजिए। एक नए शोध में दावा किया गया है कि बच्चों के बोलने से पहले उनसे ढेर सारी बात की जाए तो उनकी बुद्घि तेज होती है। नार्थ-वेस्टर्न यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने तीन महीने के 50 बच्चों पर अध्ययन किया।

ब्रिटिश अखबार 'द टेलीग्राफ' के अनुसार शोधकर्ताओं ने पाया गया कि जिस बच्चे की माँ उससे खूब सारी बातें करती थी उसका दिमाग काफी तेज था। अध्ययन के मुताबिक तीन महीने के बच्चों के लिए शब्द उनकी सोच को प्रभावित करते हैं।

यह उनके लिए किसी म्यूजिकल टोन से बेहतर काम करते हैं। तीन महीने के बच्चों पर शब्दों का प्रभाव जल्दी पड़ता है। इससे उनमें चीजों में भेद करने की क्षमता विकसित होती है। शब्दों को समझकर ही वह लोगों को पहचानना शुरू करते हैं।



और भी पढ़ें :