मोदी का गहलोत सरकार पर आरोप

जयपुर (भाषा) | भाषा| पुनः संशोधित शुक्रवार, 27 फ़रवरी 2009 (20:21 IST)
संघ के सदस्यों के पेट्रोल पंपों पर छापों पर सवालिया निशान लगाते हुए इसके अध्यक्ष ललित मोदी ने कहा कि अशोक एक मार्च को होने वाले आरसीए चुनावों से पहले मतदाताओं को डरा धमका रही है।

मोदी ने मुंबई से कहा कि आरसीए के दो सदस्यों महेंद्र शर्मा और एम नाहर के क्रमश: उदयपुर और भीलवाड़ा स्थित पेट्रोल पंपों पर जिला वितरण कार्यालय माप तौल विभाग (उद्योग) और तेल कंपनी के अधिकारियों ने संयुक्त अभियान छापे मारे।

उन्होंने लगाया कि छापों के तुरंत बाद पेट्रोल पंपों के दोनों मालिकों को किसी गुमनाम व्यक्ति ने फोन करके जयपुर में मुख्यमंत्री के विशेष सचिव श्रीमत पांडे से संपर्क करने की सलाह दी। यह गहलोत सरकार का प्रक्रिया में सीधा हस्तक्षेप है।
आरसीए चुनाव उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश एनएम कासिलवाल की देखरेख में होंगे, लेकिन मोदी ने दावा किया कि सरकार विभिन्न एजेंसियों की मदद से मतदाताओं को भयभीत करके किसी भी हाल में इनमें जीतना चाहती है।

उन्होंने कहा कि यह गैरकानूनी है। गहलौत सरकार मुझे और आरसीए सदस्यों को परेशान कर रही है। मैं आखिर तक लड़ाई लडूँगा।



और भी पढ़ें :