बैंकों में नौकरियों की बाढ़, जानिए कैसे

नई दिल्ली | WD|
हमें फॉलो करें
FILE
नई दिल्ली। अब बेरोजगारी से जूझ रहे भारत के युवाओं के लिए यह अच्छी खबर है। भारत में बैंकिंग सेक्टर में नौकरियों की बाढ़ आने वाली है।


अगले 5 से 10 सालों में बैंकिंग सेक्टर में 20 लाख नौकरियों का निर्माण होगा। 2014 में सबसे ज्यादा नौकरियां बैंकिंग सेक्टर में रहेगी।

विशेषज्ञों के अनुसार भारत की आर्थिक व्यवस्था में सुधार होगा साथ ही रिजर्व बैंक ग्रामीण क्षेत्रों में बैंको को शाखाएं खोलने के लिए लाइसेंस जारी करने यहां पर मैन पॉवर की आवश्यकता होगी। मणिपाल अकादमी ऑफ बैंकिंग के अनुसार अगले पांच साल में ही बैंकिंग क्षेत्र में 18 से 20 लाख नई नौकरियों का सृजन होगा।

नए बैंक लाइसेंस जारी होने तथा रिजर्व बैंक व सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में वित्तीय सेवाएं पहुंचाने के प्रयासों से बैंकिंग क्षेत्र में रोजगार बढ़ेगा। विशेषज्ञों के मुताबिकसार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के करीब 50 फीसद श्रमबल अगले कुछ साल में सेवानिवृत्त हो जाएगा।


ऐसे में इन बैंकों में नई प्रतिभाओं की जरूरत होगी। मणिपाल अकादमी आफ बैंकिंग के अनुसार पिछले साल सार्वजनिक व निजी क्षेत्र के बैंकों में नौकरियों के लिए 4 लाख लोगों ने आवेदन किया। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने इनमें से 60,000 से 70,000 आवेदकों को नौकरियां दीं, वहीं निजी क्षेत्र के बैंकों ने 40,000 नौकरियां दीं। (एजेंसियां)



और भी पढ़ें :