जापानी भूकंप से चीन में आपूर्ति प्रभावित

बीजिंग| भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 30 मार्च 2011 (15:53 IST)
हमें फॉलो करें
जापान में भीषण भूकंप और सुनामी से वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला प्रभावित हुई है। इससे चीन के आयात पर असर पड़ा है और यहाँ संबंधित वस्तुओं की कीमत में तीव्र वृद्धि दर्ज की गई है।


आयात और निर्यात के लिहाज से चीन, जापान का सबसे बड़ा व्यापारिक सहयोगी है। भूकंप से सर्वाधिक प्रभावित जापान का उत्तर-पूर्वी तटीय क्षेत्र चिप से लेकर सेमीकंडक्टर और वाहन उपकरणों के लिए विनिर्माण आधार था।

जापान का कुल व्यापार (आयात और निर्यात) सालाना आधार पर पिछले साल 30 फीसदी बढ़कर 301.9 अरब डॉलर का रहा। जहाँ जापान का चीन को किए जाने वाला निर्यात 149.1 अरब अमेरिकी डॉलर था वहीं आयात 152.8 अरब डॉलर था।

भूकंप के बाद आपूर्ति श्रृंखला प्रभावित होने से चीन में इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं और वाहन उपकरणों के दाम में वृद्धि हुई है। जापान में आपूर्ति श्रृंखला प्रभावित होने से चीन में आईपैड टैबलेट का दाम 2800 युआन से बढ़कर 3300 यूआन हो गया।


चीन के सिलिकन वैली कहे जाने वाले झोंगुआनकुन में एप्पल उत्पादों की बिक्री करने वाले जिआंग शामिंग ने कहा कि आईपैड का प्रमुख हिस्सा चिप है जो जापान में बनता है। भूकंप के कारण आपूर्ति प्रभावित होने से इसकी कीमत चढ़ी है। उन्होंने कहा कि 16जीबी का आईपैड कई स्टोरों में उपलब्ध नहीं है।
जापानी ब्रांड का कैमरा बेचने वाले सेल्समैन सुन जिनलेई ने कहा कि कैनन के 5डी मार्क-2 कैमरा की कीमत 16700 युआन से बढ़कर 21000 युआन हो गई थी। फिलहाल यह 18000 युआन में बिक रहा है। डेवलपमेंट सेंटर ऑफ द स्टेट काउंसिल के उद्योग अनुसंधान विभाग के उप प्रमुख झाओ जिन्हुआ ने कहा कि जापान इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के निर्माण का प्रमुख केंद्र है। चीन प्रसंस्करण और कारोबारी बाजार है। इसीलिए अन्य देशों के मुकाबले हमारे देश पर जापान में आई प्राकृतिक आपदा का असर ज्यादा पड़ा है।
उन्होंने कहा कि जापान संकट को कम नहीं आँकना चाहिए। इसका असर चीन के निर्यात पर पड़ेगा। बाजार में इसका असर दिखने लगा है।

हैलोंग इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट में जापानी कैमरा के एक वितरणकर्ता ने कहा कि हालाँकि हमारे पास पर्याप्त भंडार है, लेकिन कच्चे माल की कमी और अन्य साजोसामान के अभाव में अब भंडार मध्य अप्रैल तक के लिये ही बचा है।
इलेक्ट्रानिक उपकरणों के अलावा वाहन उद्योग पर भी जापानी आपदा का असर पड़ा है। भूकंप के बाद संयुक्त उद्यम डोनफेंग निसान ने कहा कि वह अपना उत्पादन घटाएगी। (भाषा)



और भी पढ़ें :