सू की से गंभारी की मुलाकात

म्यांमार में वार्ता का रास्ता खुला-गंभारी

यांगून (वार्ता)| वार्ता|
संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत इब्राहिम गंभारी ने गुरुवार को कहा कि म्यांमार में सैन्य शासन और नजरबंद विपक्ष की नेता आंग सांग सू की के बीच ठोस बातचीत का रास्ता खुल गया है।

गंभारी ने छह दिन की म्यांमार की यात्रा की समाप्ति पर यहाँ जारी बयान में कहा कि अब ऐसी प्रक्रिया शुरू हो गई है जिससे सरकार और सुश्री सू की के बीच ठोस बातचीत की राह खुल गई है और इससे समग्र रूप में राष्ट्रीय मेल-मिलाप को बढ़ावा मिलेगा।

गंभारी ने कहा कि यह बातचीत जितनी जल्दी शुरू हो जाए म्यांमार के लिए उतना अच्छा रहेगा। गंभारी के बयान से इस बात का खुलासा नहीं हो सका है कि छह दिन के अपने अभियान के दौरान सैन्य शासन को बातचीत के लिए तैयार करने की दिशा में क्या प्रगति हुई लेकिन बयान में बताया गया है कि गंभारी अगले कुछ हफ्तों में फिर म्यांमार लौंटेगे और समृद्धि लोकतंत्र और मानवाधिकार का सम्मान हासिल करने का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए बातचीत की प्रक्रिया फिर शुरू करेंगे।
सुश्री सू की ने श्री गंभारी को उनकी ओर से बयान जारी करने के लिए अधिकृत किया था। उधर हनोई से प्राप्त समाचार के अनुसार वियतनाम ने म्यांमार के सैन्य शासन से संयुक्त राष्ट्र के दूत के साथ मिलकर काम करने का आग्रह किया ताकि दक्षिण पूर्व एशिया के इस देश के संकट का समाधान हो सके।

वियतनाम के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ले दुंग ने म्यांमार के नव-नियुक्त प्रधानमंत्री जनरल थेन सिन की देश की यात्रा की पूर्व संध्या पर कहा कि हमें उम्मीद है कि म्यांमार राष्ट्रीय मेल-मिलाप के लिए संयुक्त राष्ट्र के साथ सहयोग करेगा।



और भी पढ़ें :