कौन अमिताभ के साथ काम नहीं करना चाहेगा : सोनल चौहान

सोनल चौहान
PR


‘जन्नत’ जैसी सफल फिल्म देने के बाद आप कहाँ गायब हो गईं?
मेरा मानना है कि ‘जन्नत’ मुझे समय से पहले ही मिल गई। मेरी पढ़ाई अधूरी थी। ‘जन्नत’ के रिलीज होने के बाद मैंने पढ़ाई पूरी की। साथ ही मैंने एम.एफ. हुसेन के बेटे की एक की। दो दक्षिण भारत की फिल्मों में काम किया। यदि एम.एफ. हुसैन के बेटे वाली फिल्म रिलीज हो गई होती तो इस तरह के सवालों का मुझे सामना नहीं करना पड़ता। दक्षिण की फिल्में हिंदी भाषी क्षेत्रों में नहीं आई, इसलिए लोगों को मेरे बारे में पता ही नहीं चला।

‘बुड्ढा होगा तेरा बाप’ कैसे मिली?
पुरी जगन्नाथ के साथ काम करना चाहती थीं। मैंने दक्षिण भारत में उनकी कई फिल्में देखी हैं। इसी बीच अमिताभ बच्चन जी का फोन आया कि क्या यह फिल्म करना चाहती हो तो मैं कुछ बोल ही नहीं पाई। भला अमित जी के साथ कौन काम नहीं करना चाहेगा। फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ी तो हँस-हँस कर बुरा हाल हो गया।

आप क्या किरदार निभा रही हैं?
मैंने कालेज गोइंग गर्ल का कैरेक्टर निभाया है। वह चुलबुली है। अपने माता-पिता की इज्जत करती है और स्ट्रांग माइंडेड है।

क्या आपने भी रवीना की तरह आइटम नंबर किया है?
जी नहीं। वैसे भी मैं कम से कम दो साल तक आइटम नंबर नहीं करना चाहती।

अमिताभ और हेमा मालिनी के साथ काम करने का क्या अनुभव रहा?
अमित जी के सामने तो मैं बहुत नर्वस थी, लेकिन उनकी सिम्पलीसिटी ने मेरा डर दूर किया। वे साधारण तरीके से सबके बीच रहते थे। लगता ही नहीं था कि हमारे बीच सुपरस्टार मौजूद है। हेमा जी की सुंदरता का तो जवाब नहीं। पहले दिन मैं उन्हें एकटक देखे जा रही थी। उन्होंने यूनिट वालों से पूछा कि यह लड़की कौन है जो मुझे घूरे जा रही है। बाद में जब मैं उनसे मिली तो वे खूब हँसी।

और कौन सी फिल्में कर रही हैं?
समय ताम्रकर|

जैसी सफल फिल्म करने के बाद अचानक गायब हो गईं। अब ‘बुड्ढा होगा तेरा बाप’ से वापसी कर रही हैं। पेश है सोनल से बातचीत :

दो फिल्में कर रही हूँ जिनके नाम अब तक तय नहीं हुए हैं।


और भी पढ़ें :