21 June yoga Day : बॉडी को स्लिम बनाने के लिए योग के ये 5 उपाय आजमाएं

21 June Yoga Day
अनिरुद्ध जोशी|
अपने शरीर को लचीला या स्लिम बनाने के लिए किसी भी प्रकार की कसरत काम नहीं आती है ही यह कार्य कर सकता है। आजकल पुरुष लोग तो की फिकर नहीं करते हैं लेकिन अधिकतर महिलाएं तो करने लगी हैं। प्रदूषण भरे वातावरण और नकली खानपान के चलते शरीर को सेहतमंद बनाए रखना जरूरी है तो जानते हैं कि किस तरह बॉडी को स्लिम बनाए रखा जा सकता है।
1. परहेज : सर्वप्रथम जितना भोजन लेने की क्षमता है, उससे कुछ कम ही अर्थात सीमा के अंदर ही भोजन लें। भोजन में पोषक तत्वों का समावेश जरूर हो। मसालेदार भोजन बंद कर दें। कड़वा, खट्टा, तीखा, नमकीन, गरम, खट्टी भाजी, तेल, तिल, सरसों, मद्य, अंडा, मछली या अन्य मांसाहार का सेवन बंद कर दें। रात के भोजन के बाद 16 घंटे तक कुछ भी ना खाएं और न पीएं।

2. अन्न : शुरुआत में स्वविवेक से एक वक्त दिन में भूख लगने पर ही भोजन करें और रात में स्वल्पाहार लें। भोजन में सलाद, सूप, छाछ, दही का सेवन करें। सब्जी अधपकी, रोटी पूरी पकी हो। हरी पत्तेदार सब्जी, मौसमी फल तथा फलों के रस का सेवन उपयोगी रहता है। भोजन करने के पश्चात पपीता, अमरूद और फलों का रस लिया जाए तो पाचन शक्ति बढ़ेगी।
3. जल : सुबह उठते ही दो गिलास गर्म जल छना हुआ लें और पेट की मसल्स को ऊपर-नीचे हिलाएं। चाहें तो ताड़ासन, द्विभुज कटि चक्रासन करें। पानी अधिक पीएं, लेकिन चाहे जहां का पानी न पीएं। बोरिंग के पानी में भारीपन होता है, अत: उसे अच्छे से फिल्टर करने के बाद ही इस्तेमाल करें। बहुत ज्यादा पानी न पीएं। भोजन करने के दौरान पानी न पीएं तो बेहतर है। भोजन पश्‍चात एक घंटे बाद ही पानी पीएं।
4. योग पैकेज : आसनों में अंगसंचालन करते हुए सूर्य नमस्कार, चक्रासन, पादहस्तासन, अर्ध-मत्स्येन्द्रासन, भुजंगासन विपरीत नौकासन, नौकासन और धनुरासन करें। प्राणायाम में अनुलोम-विलोम और कपालभांति करें। ध्यान में ध्यान की आधुनिक पद्धतियों में ओशो का डायनामिक और सक्रिय ध्यान लाभकारी सिद्ध होगा जो आपको एकदम में छरहरा बना देगा।

5. शॉर्ट कट : फिगर को स्लिम बनाने के लिए सर्वप्रथम दो दिन तक अनाहार रहें। फिर ज्यूस से स्वल्पाहार और स्वल्पाहार से उतने भोजन पर टिक जाएं जितने से शरीर में स्वस्थता, हलकापन तथा फिटनेस अनुभव करें। फिर कुंजल, सूत्रनेति, कपालभांति और को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना लें। तब देखें कमाल। लेकिन ध्यान रहे, यह सब योग चिकित्सक की सलाह अनुसार करें, क्योंकि हमें नहीं मालूम की इस वक्त आपके शरीर की पोजीशन क्या है और आप उपरोक्त बताएं नियमों को करने में सक्षम हैं या नहीं।



और भी पढ़ें :